पी एम श्री केंद्रीय विद्यालय रानीखेत में साइबर अपराध विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला का हुआआयोजन

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत– आज पी एम श्री केंद्रीय विद्यालय रानीखेत में साइबर अपराध विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन हुआ जिसमें NIC अल्मोड़ा से आये विशेषज्ञ श्री संजीव सहारन ने विद्यार्थियों को उक्त विषय से बारीकी से अवगत कराया।
21 वीं सदी में ज्ञान व कौशल विषय के अंतर्गत इस कार्यशाला का संचालन श्री दीपक जोशी द्वारा किया गया जिन्होंने सर्वप्रथम मुख्य वक्ता का स्वागत कर उनका परिचय कराया गया। 11वीं कला, वाणिज्य व विज्ञान के विद्यार्थी उक्त कार्यशाला के लाभार्थी रहे।

यह भी पढ़ें 👉  कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने संयुक्त मजिस्ट्रेट को ज्ञापन देकर की रोडवेज स्थित ट्यूबवेल से नगर में पानी बांटे जाने की मांग

श्री संजीव ने सर्वप्रथम NIC के बारे में अवगत कराते हुए साइबर शब्द से विद्यार्थियों को अवगत कराया। आगे उन्होंने साइबर बुलीइंग, एक्सटॉर्शन, साइबर ग्रूमिंग आदि विषयों पर विस्तार से जानकारी दी तथा साइबर जागरूकता के द्वारा इस प्रकार के अपराधों से बचने के उपाय बताये। इसी क्रम में उनके द्वारा कुछ वास्तविक घटनाओं का जिक्र करते हुए यह भी बताया गया कि कभी कभी लोग छोटे से लालच में आकर अपनी व्यक्तिगत जानकारी साझा कर देते हैं और बड़े वित्तीय नुकसान करवा बैठते हैं। सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर अनावश्यक सूचनाओं को साझा न कर, अपने ओटीपी आदि न बताकर, अज्ञात लिंक पर न क्लिक कर इन घटनाओं के शिकार होने से बचा जा सकता है। इस प्रकार यह कार्यशाला विद्यार्थियों के साथ ही शिक्षकों के लिए भी बेहद लाभदायक रही। विद्यालय के प्राचार्य श्री राकेश दूबे द्वारा मुख्य वक्ता का धन्यवाद ज्ञापित कर आज की इस कार्यशाला को विशेष उपयोगी बताया । कार्यशाला में NIC से आये नेटवर्क इंजीनियर सत्यार्थ समेत श्रीमती रचना वर्मा, श्री के के पांडे , श्री विकास भाटिया एवं श्री सागर बत्रा आदि शिक्षक भी उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें 👉  कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने संयुक्त मजिस्ट्रेट को ज्ञापन देकर की रोडवेज स्थित ट्यूबवेल से नगर में पानी बांटे जाने की मांग