पूर्व सांसद‌ प्रदीप टम्टा ने कहा गौमाता के हत्यारों कड़ी सजा मिले,गौमाता भाजपा के लिए महज राजनीतिक मुद्दा

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत -पूर्व लोकसभा एवं राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा ने पिछले दिनों भतरौंजखान में हुए गौमाता हत्याकाण्ड की घोर निंदा करते हुए कहा कि ऐसा घिनौना कृत्य करने वालों को कड़ी से कड़ी सज़ा मिलनी चाहिए।पूर्व सांसद ने यहां कार्यकर्ताओं के बीच यह बात कही।
उन्होंने केंद्र व प्रदेश सरकार को निशाने में लेते हुए कहा कि गौमाता भाजपा के लिए केवल राजनीति करने का माध्यम मात्र है। विगत 10 वर्षों से केंद्र में व विगत 7 वर्षों में प्रदेश में भाजपा की सरकारें है, जो गौ माता की रक्षा करने में नाकाम रही हैं। उन्होंने कहा कि समाचार के माध्यम से पता चला कि इलेक्ट्रोरल बॉण्ड के ज़रिए बीफ निर्यात कंपनी से भाजपा ने अरबों रुपयों का चंदा लिया है।
वहीं उक्त गौ हत्याकांड में भाजपा द्वारा कुंठित मानसिकता का परिचय देते हुए हत्याकांड के आरोपियों का कांग्रेस से संबंध जोड़ना बहुत ही हास्यास्पद व तुच्छ राजनीति का उदाहरण दिया गया। जबकि उपरोक्त प्रकरण के आरोपियों से कांग्रेस का दूर-दूर तक कोई नाता नहीं है। कहा कि विगत दिनों रानीखेत विधायक के वायरल ऑडियो जिसमे ₹30लाख देकर मंत्री बनने की बात कही गई है उससे जनता का ध्यान भटकाने के लिए भाजपा द्वारा ओछी राजनीति की जा रही है।
बैठक में ब्लॉक प्रमुख हीरा सिंह रावत, ब्लॉक अध्यक्ष गोपाल सिंह देव, चिलियानौला मगर अध्यक्ष कमलेश बोरा, पूर्व जिलाध्यक्ष महेश आर्या , कॉर्डिनेटर कुलदीप कुमार, महिला नगर अध्यक्ष नेहा साह माहरा, पूर्व व्यापार मंडल अध्यक्ष यतीश रौतेला, त्रिलोक आर्या, संदीप बंसल, विजय तिवारी आदि उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें 👉  प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल‌ की जिला इकाई की बैठक में उठी व्यापारिक व क्षेत्रीय समस्याएं, व्यापारियों की एकजुटता पर बल