संपत्ति कर के विरोध में रानीखेत-चिलियानौला नगर पालिका के नागरिक हुए लामबंद,बैठक कर पुरजोर विरोध का किया ऐलान

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत – रानीखेत -चिलियानौला नगर पालिका परिषद में पूर्व में शासन द्वारा घोषित दस वर्ष तक संपत्ति कर छूट को दरकिनार किए जाने का विरोध अब जोर पकड़ने लगा है। विभिन्न संगठनों की आज हुई संयुक्त बैठक में संपत्ति कर वसूलने का एकजुट विरोध करने का ऐलान किया गया।

आज रविवार को रानीखेत चिलियानौला नगरपालिका नागरिक मंच , हिमालय वृद्ध जन कल्याण समिति , व्यापार मंडल आदि संगठनों की संयुक्त बैठक में की पूर्व में शासन द्वारा नवगठित नगर पालिकाओं के लिए घोषित संपत्ति कर में दस वर्ष की छूट को दरकिनार करते हुए संपति कर लेने, साथ ही संपत्ति कर का मानक सर्किल रेट को बनाए जाने का प्रबल विरोध किया गया। बैठक में कहा गया कि राज्य सरकार द्वारा पूर्व घोषणा को अमल में न लाए जाना नागरिकों के साथ धोखा है जिसका पुरजोर संगठित विरोध किया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  वोट डालने हल्द्वानी जा रहे चिकित्सक की कार अनियंत्रित होकर खाई में गिरी, हुई मौत,

विरोध की रणनीति तय करने का निर्णय लेते हुए सातों वार्डों की सूचना समिति गठित की गई जिसमें वार्ड एक से आर सी आर्या, वार्ड दो से विनोद मेहरा, कमला बिष्ट, वार्ड तीन से संजीव जोशी, सरस्वती पंत,पूरन चंद्र तिवारी, हिमांशु बिष्ट , वार्ड चार से कमलेश बोरा, नवीन बोरा वार्ड पांच से चंदन सिंह रावत, त्रिलोचन भट्ट वार्ड छह से अरूण रावत, कल्पना आर्या, राजेन्द्र पटवाल, ललित बोरा और लक्ष्मण जीना, हंसी खाती को शामिल किया गया। भावी रणनीति के लिए अगली बैठक 21फरवरी को हैड़ाखान परिसर में पूर्वाह्न ग्यारह बजे से आहूत की गई है।

यह भी पढ़ें 👉  भतरौंजखान- भिकियासैंण मार्ग में दर्दनाक हादसा,बाइक सवार युवक की मौत,एक घायल