रानीखेत सहित आस-पास बैंकों, पोस्ट आफिस के ताले व एटीएम तोड़ने वाला निकला सेना का जवान,पुलिस ने फर्जी नम्बर की स्कूटी सहित किया गिरफ्तार,आन लाइन गेम की लत ने क़र्ज़ में डुबोया , इसलिए बना चोर

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत: 25 अप्रैल की सुबह यहां एसडीएफसी बैंक के एटीएम का शटर तोड़ कर एटीएम मशीन तोड़ने की नाकाम कोशिश करने‌सहित अन्य बैंकों ,पोस्ट आफिस के ताले तोड़ने वाला चोर सेना का जवान‌ निकला । पुलिस ने उसे फर्जी नम्बर की स्कूटी के साथ गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार अभियुक्त नवीन सिहं बिष्ट पुत्र बचे सिंह ग्राम कोटली दौलाघट का निवासी है वर्तमान में सेना की सिग्नल कोर में तैनात हैं।

यह भी पढ़ें 👉  भतरौंजखान- भिकियासैंण मार्ग में दर्दनाक हादसा,बाइक सवार युवक की मौत,एक घायल

प्रभारी निरीक्षक नासिर हुसैन के नेतृत्व में पुलिस टीम ने गत दिवस चार मई को अभियुक्त को उस वक्त वलना तिराहे पर गिरफ्तार किया जब वह फ़र्जी नम्बर की स्कूटी से मजखाली की ओर से आ‌ रहा था।पुलिस को देखकर वह घबरा गया और पीछे मुड़ने के प्रयास में गिर गया । पुलिस ने उसके पास से चोरी हेतु प्रयोग किए जाने वाले औजार बरामद किए। अभियुक्त ने पुलिस को बताया कि वर्तमान में वह सेना की सिग्नल कोर में ट्रेड मेन के पद पर तैनात हैं और अवकाश पर घर आया था।उसने बताया उसे आनलाइन गेम की लत लग चुकी थी जिसमें उसने काफी पैसा गंवा दिया और क़र्ज़ में डूब गया था इसलिए उसने चोरी का रास्ता चुना लेकिन बैंकों पोस्ट आफिस और एटीएम में ताले तोड़ने के बावजूद वह चोरी करने में असफल रहा।आज भी वह चोरी के इरादे से ही‌ निकला था लेकिन पुलिस की गिरफ़्त में आ गया। अभियुक्त नवीन सिंह बिष्ट पर कोतवाली अल्मोड़ा में एफ आई आर नं22/2023धारा 379/511आईपीसी, कोतवाली रानीखेत में एफ आई आर नं 07-2023धारा457/380/511/420/468/471आई पी सी तथा एफ आई आर नं11/2023धारा 457/380/511/427आई पी सी तथा थाना द्वारा हाट में एफ आई आर नं07/2023धारा379/511/427आईपी सी में अभियोग पंजीकृत है।

यह भी पढ़ें 👉  इस बार उत्तराखंड में 2019 की‌ तुलना में कम हुआ मतदान,पूरे प्रदेश में 53.56मतदान, उदासीन दिखा मतदाता

फोटो रामेश्वर प्रसाद गोयल