गर्भवती महिला हीरा देवी की मौत को डीएम ने गम्भीरता से लिया,मजिस्ट्रियल जांच के लिए कमेटी बनाई,अधिकारियों से किया जवाब तलब

ख़बर शेयर करें -

अल्मोड़ा 30 अक्टूबरः -जिलाधिकारी वन्दना सिंह की अध्यक्षता में आज स्वास्थ्य विभाग से सम्बन्धित प्रकरणों के सम्बन्ध में एक बैठक नवीन कलैक्ट्रेट में आहूत की गयी। बैठक में जिलाधिकारी ने दिनॉंक 28 अक्टूबर, 2021 को ग्राम रोल, गल्ली विकासखण्ड धौलादेवी में गर्भवती महिला हीरा देवी पत्नी गणेश सिंह को समय पर उपचार नहीं मिलने के कारण तथा पीएमजीएसवाई के अधीन आटी हनुमान मन्दिर से रंगोली मोटर मार्ग के बन्द होने के कारण एम्बुलेंस सुविधा नहीं मिल पाने से गर्भवती महिला की मृत्यु हो गयी थी को गम्भीरता से लेते हुए अपर जिलाधिकारी की अध्यक्षता, मुख्य चिकित्साधिकारी एवं उप जिलाधिकारी सदर की सदस्यता में मजिस्ट्रीयल जॉच समिति का गठन करने के निर्देश दिये। उन्होंने बन्द मोटर मार्ग आ तिथि तक किन कारणों से नहीं खोला गया, मार्ग खोलने के कार्य में यदि विभाग द्वारा लापरवाही बरती गयी है तो लापरवाही बरतने वाले अधिकारी/कर्मचारी का उत्तरदायित्व निर्धारित करते हुए संस्तुति आख्या उपलब्ध कराने के साथ ही बरती गयी लापरवाही हेतु सम्बन्धित कार्मिक के विरूद्व प्रस्तावित की जाने वाली विधिसंगत कार्यवाही की संस्तुति सहित आख्या जिलाधिकारी कार्यालय को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।
                                 
जिलाधिकारी ने कहा कि पूर्व में मुख्य चिकित्साधिकारी तथा समस्त उप जिलाधिकारियों व तहसीलदारों को स्पष्ट निर्देश दिये गये थे कि विगत दिनों हुई वर्षा के कारण जनपद में बन्द चल रहे मोटर मार्गों के निकट स्थित ग्रामों में गर्भवती महिलाओं के साथ अन्य ग्रामीणों को चिकित्सकीय उपचार नहीं मिल पा रहा हो तथा ऐसे पर्यटकों को जो गॉवों में फसे हो को चिन्हित् कर आख्या उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये थे ताकि ससमय ऐसे समस्त व्यक्तियों का रैस्क्यू कर सुरक्षित स्थान पर पहुॅचाया जा सके। उन्होंने बताया कि स्पष्ट आदेश होने के उपरान्त भी अति संवेदनशील प्रकरणों में घोर लापरवाही बरती गयी है जिस कारण महिला को ससमय रैस्क्यू नहीं किया जा सका तथा उपचार के अभाव में उसकी मृत्यु हो गयी।
                                     
जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियन्ता पीएमजीएसवाई, सिंचाई खण्ड अल्मोड़ा को निर्देश दिये है आटी हनुमान मन्दिर रंगोली मोटर मार्ग को दिनॉंक 31 अक्टूबर, 2021 की सांय तक किसी भी दशा में यातायात हेतु सुचारू करते हुए सूचना आपदा कन्ट्रोल रूम को प्रेषित करना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये है कि जनपद में आपदा के कारण बन्द पड़े मोटर मार्गों के निकट स्थित समस्त ग्रामों की ऐसी महिलायें जिनका आगामी एक सप्ताह के भीतर प्रसव होना सम्भावित है की सूची समस्त आशाओं/एएनएम के माध्यम से आज ही प्राप्त करते हुए उक्त समस्त महिलाओं को दूरभाष से सूचित कर या रैस्क्यू करते हुए निकटवर्ती चिकित्सालय में भर्ती करवाया जाने के साथ ही सूचना जिलाधिकारी कार्यालय को भेजना सुनिश्चित करेंगे।
                                   
 जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को यह भी निर्देश दिये कि प्रत्येक माह की पहली तिथि को उस माह में जिन महिलाओं का प्रसव होना सम्भावित है की सूची तैयार करते हुए बाल विकास परियोजना कार्यालय में स्थित वन स्टॉप सेन्टर को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे और उक्त प्रक्रिया प्रत्येक माह में की जायेगी। उन्होंने जिला कार्याक्रम अधिकारी/केन्द्र प्रशासिका, वन स्टॉप सेन्टर को निर्देश दिये है कि सेन्टर के द्वारा मुख्य चिकित्साधिकारी अल्मोड़ा को प्राप्त सूची में अंकित समस्त महिलाओं को प्रत्येक माह की 02 एवं 03 तारीख को कॉल करना सुनिश्चित करेंगे तथा महिलाओं से उनकी समस्या, सड़क की स्थित, एम्बुलेंस सुविधा की स्थिति, मोबाईल नेटवर्क के सम्बन्ध में सूचना प्राप्त करते हुए उसे नोट कराते हुए तथा प्रत्येक माह की 04 तारीख को जिलाधिकारी कार्यालय को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *