कुमाऊं के ऊधमसिंह नगर में खुलेगा एम्स का सेटेलाइट कैम्पस, सांसद अनिल बलूनी की कोशिश रंग लाई

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड को बड़ी सौगात केंद्र सरकार ने दी है एम्स के सेटेलाइट केंपस को कुमाऊ के उधम सिंह नगर में स्थापित करने की मंजूरी केंद्र सरकार ने दे दी है जिससे एक बार फिर राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी की कोशिशों के चलते यह सब चीजे सार्थक हो सकी है। आपको बता दें प्रदेश में स्वास्थ्य व्यवस्था को मजबूत करने के लिए अनिल बलूनी कई तरीके से कोशिशों में जुटे हुए थे ऐसे में ना केवल कुमाऊं में एम्स खोलने को लेकर उनकी कोशिश थी वहीं राज्य में कैंसर की बीमारी को ठीक करने के लिए भी एक कैपस खुलवाने की उनकी कोशिश है जिसको भी जल्द साकार किया जा सकेगा

यह भी पढ़ें 👉  सीबीआई ने लालकुआं रेलवे स्टेशन में कॉमर्शियल सुपरवाइजर को रिश्वत मांगते किया गिरफ्तार

जी हाँ उत्तराखंड के लाल अनिल बलूनी  की एक और मुहिम लाई रंग आदरणीय बलूनी जी ने वर्ष 2018 में प्रधानमंत्री से कुमाऊं में एम्स के लिए अनुरोध किया था उत्तराखंड की प्रमुख मांगों में से एक मांग को प्रधानमंत्री  ने सहर्ष स्वीकृति दे दी है।

यह भी पढ़ें 👉  राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू पहुंची उत्तराखंड, मुख्यमंत्री व राज्यपाल ने की आगवानी

आपको बता दे कि भारत सरकार के आर्थिक सलाहकार श्री सरन के पत्र में एम्स भुवनेश्वर द्वारा उड़ीसा के बालासोर में संचालित सेटेलाइट केंद्र की तर्ज पर एम्स ऋषिकेश द्वारा उत्तराखंड के उधम सिंह नगर में एम्स का सेटेलाइट केंद्र संचालित करने के लिए आवश्यक व्यवस्थाएं किए जाने के लिए कहा है।

भारत सरकार के पत्र मिलने के बाद अब राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध जमीन की उपयोगिता एवं एम्स के सेटेलाइट केंद्र के रूप में संचालित होने की क्षमता का आकलन स्वास्थ्य मंत्रालय की टेक्निकल टीम द्वारा शीघ्र ही किया जाएगा जिसमें एम्स निदेशक की अगुवाई में वहां के इंजीनियर तथा चीफ आर्किटेक्ट जमीन का भ्रमण कर उपयोगिता का परीक्षण करेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  राजकीय आदर्श बालिका इंटर कॉलेज रानीखेत में ऊर्जा संरक्षण पर हुई ब्लाक स्तरीय विभिन्न प्रतियोगिताएं,

परीक्षण के उपरांत एम्स की टीम चिन्हित स्थान पर एम्स के सेटेलाइट केंद्र के संचालन हेतु अपनी रिपोर्ट भारत सरकार को प्रस्तुत करेगी। भारत सरकार के आर्थिक सलाहकार द्वारा इस प्रकरण को तेजी से निष्पादित करने का अनुरोध भी एम्स निदेशक से किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *