हल्द्वानी के कारोबारी ने की अल्मोड़ा अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक के साथ धोखाधडी़,केस दर्ज

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी के कारोबारी पर अल्मोड़ा अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक हल्द्वानी को दो करोड़ रुपये का चूना लगाने का आरोप लगा है। बैंक के वरिष्ठ शाखा प्रबंधक की तहरीर पर पुलिस ने नागपाल ट्रेडर्स हल्द्वानी के खिलाफ अमानत में खयानत का का केस दर्ज किया है। आरोप है कि लोनधारक ने बैंक में बंधक बनाई संपत्ति को ऋण लेने के बाद बेच दिया। बैंक में किस्त जमा नहीं होने पर जांच में इसका खुलासा हुआ है।

यह भी पढ़ें 👉  दरोगा भर्ती 2015 को लेकर बड़ी खबर, दोषियों के विरूद्ध अभियोग पंजीकृत करने के आदेश जारी

मीरा मार्ग हल्द्वानी के अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक के वरिष्ठ शाखा प्रबंधक ने बताया कि 10 नवंबर 2009 को बरेली रोड हल्द्वानी के रनवीर नागपाल ने नागपाल ट्रेडर्स बरेली रोड फर्म के नाम से बैंक से दो करोड़ रुपये का ऋण लिया था। गारंटी के तौर पर रुद्रपुर के गांव फुलसुंगा तहसील किच्छा में 0.7860 हेक्टेयर भूमि और रजिस्ट्री-खसरा खतौनी के दस्तावेज जमा किए थे। बैंक ने सारे दस्तावेजों को बंधक बनाकर लोन दे दिया।

यह भी पढ़ें 👉  स्व. इदरीश बाबा स्मृति सद्भावना फुटबॉल मैच का शुभारंभ,ऐरो स्पोर्ट्स और रानीखेत स्पोर्ट्स क्लब के खिलाड़ियों ने किया बेहतरीन प्रदर्शन

कुछ माह बाद जब बैंक ने ऋणी बकायेदार रनवीर नागपाल के एनपीए हो चुके खाते में बंधक संपत्ति का भारमुक्त प्रमाण पत्र निकलवाया तो पता चला कि आरोपी ऋणधारक ने बदनीयती से बंधक दस्तावेजों को जमा करने से पहले दिखाई गई संपत्ति को बेच दिया है। बैंक को गुमराह व जालसाजी कर संपत्ति को बेच दिया।
बैंक के साथ धोखाधड़ी के बाद वरिष्ठ शाखा प्रबंधक मामले की शिकायत 24 फरवरी 2019 को एसएसपी ऊधमसिंह नगर को शिकायती पत्र देकर की। थाना ट्रांजिट कैंप पुलिस को तहरीर देने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। 15 नंवबर 2019 को पुन: ऋणधारक की संपत्ति का ब्यौरा देकर ट्रांजिट कैंप थाना पुलिस से कार्रवाई की मांग की, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.