धारचूला में पहाडी़ से गिरे बोल्डर ने मकान किया ध्वस्त,पहाडी़ से गिर रहे पत्थरों से खतरा अभी बरकरार

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड में आफत की बारिश के चलते कई जगह से नुकसान की खबरें आ रही हैं।पिथौरागढ़ जिले के धारचूला में आज एल धारा फुल्बस्ती से एक विशालकाय पत्थर के नगर में आ जाने से मल्ली बाजार स्थित ओ पी वर्मा का घर पूरी तरह ध्वस्त हो गया।

गनीमत यह रही कि मकान पहले ही खाली करा लिया गया था, इसलिये कोई जान का नुकसान नही हुआ हैं विधायक हरीश धामी ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी एवं डीएम पिथौरागढ़ आशीष चौहान से तुरंत राहत की गुजारिश की है।

यह भी पढ़ें 👉  छावनी परिषद से मुक्ति के लिए 341वें दिन भी धरनारत रहे नागरिक, गांधी पार्क में रही नारेबाजी की गूंज

क्षेत्र की लोगों का कहना है कि धारचूला एल धारा के पास भूस्खलन से टनकपुर तवाघाट राष्ट्रीय राजमार्ग पूर्ण रूप से ध्वस्त धारचूला मल्ली बाजार में नारायण लाल वर्मा जी व उसके पीछे दो मकान जमींदोज हो चुके हैं। प्रशासन ने एहतियातन मल्ली बाजार को पूर्ण रूप से खाली करवाया है लोगों को राजकीय बालिका इंटर कॉलेज धारचूला बॉयज इंटर कॉलेज धारचूला व अन्य सुरक्षित स्थानों पर भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  छावनी परिषद से मुक्ति के लिए 341वें दिन भी धरनारत रहे नागरिक, गांधी पार्क में रही नारेबाजी की गूंज

यदि रात्रि को बारिश होती है तो कई पत्थर मल्ली बाजार में जाने की संभावना जो पहाड़ी से टूट कर के मलबे में रुके हुए हैं। पहाड़ी से पत्थर सीधे मल्ली बाजार धारचूला में गिर रहे हैं तथा पहाड़ी से लगातार पानी का जल स्रोत तेज बहाव के साथ निकल रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  छावनी परिषद से मुक्ति के लिए 341वें दिन भी धरनारत रहे नागरिक, गांधी पार्क में रही नारेबाजी की गूंज