जैना गांव में मकान खतरे की जद में, लालकुर्ती में मजदूर का घर ध्वस्त,सभी बाल-बाल बचे

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत: भारी बारिश के कारण क्षेत्र में हुए नुकसान की खबरे लगातार आ रही हैं।ताडी़खेत विकास खंड के ग्राम पंचायत गुम्टा में जैना गांव को जाने वाला संपर्क मार्ग ध्वस्त होने और जमीन दरकने से कई मकान खतरे की जद में हैं वहीं रानीखेत के कुमपुर (लालकुर्ती)में देर रात एक मजदूर का कच्चा घर ध्वस्त हो गया।परिवार के सभी सदस्य बाल -बाल बच गए जिन्हें स्थानीय धर्मशाला में रखा गया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार ताडी़खेत विकास खंड के ग्राम पंचायत गुमटा में मुख्य मार्ग के कलमठ बंद होने और अति वृष्टिके कारण जैना संपर्क मार्ग ध्वस्त हो गया है। इतना ही नहीं जमीन खिसकने से जैना गांव के हरीश चंद्र,डाॅ शिवद्त्त,डा.गुसाई दत्त,कौस्तुभानंद,कैलाश नेगी डा.चिंतामणि ,कुबेर सिंह ,जगदीश चंद्र,ललित मोहन,हरिदत्त के मकान जमीन दरकने के कारण खतरे की जद में आ गए हैं।गांव का संपर्क भी मार्ग ध्वस्त होने से कट गया है।
इधर मंगलवार की रात्रि करीब दो बजे रानीखेत के कुमपुर (लालकुर्ती )में धनादेवी पत्नी शेरी राम का कच्चा घर अतिवृष्टि से ध्वस्त हो गया ।परिवार के सभी सदस्य मजदूरी करते है जो बाल बाल बच गए।सभी दस सदस्यों को सुरक्षित स्थानीय धर्मशाला में रखा गया है।

यह भी पढ़ें 👉  कांग्रेस की 'भारत जोड़ो तिरंगा यात्रा' देश भक्ति गीतों और स्वतंत्रता सेनानियों की गाथा‌ लेकर‌ पहुंची गांव -गांव
जैना गांव में भू धसाव

Leave a Reply

Your email address will not be published.