रानीखेत में कांग्रेसजनों ने बच्चों के साथ मनाया चाचा नेहरू का जन्मदिन,कहा आज का दिन बच्चों की आकांक्षाओं और अधिकारों पर विचार का दिन

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत– भारत के पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न स्व० श्री पंडित जवाहर लाल नेहरू का जन्मदिवस यहां आज पी०सी०सी० सदस्य कैलाश पांडे के खड़ी बाजार स्थित आवास पर सौल्लास मनाया गया। कार्यक्रम में बच्चों ने भी भागीदारी की।

यहां आजाद देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू का जन्मदिन बाल दिवस के रूप में मनाते हुए कांग्रेस जनों ने उनका भावपूर्ण स्मरण किया। वक्ताओं ने इस अवसर पर कहा कि नेहरू जी को बच्काचों से काफी प्रेम था, बच्चे इन्हें चाचा नेहरू कहकर पुकारा करते थे। बच्चों के प्रति प्रेम को देखते भारत में बाल दिवस 14 नवंबर को मनाया जाता है। नेहरू जी बच्चों से विशेष स्नेह रखते थे और उनको देश का भविष्य मानते थे। कहा कि नेहरू के जन्मदिन पर बाल दिवस मनाने के विचार को 27 मई, 1964 को उनकी मौत के बाद गति मिली। उनकी विरासत और बच्चों के अधिकारों और शिक्षा के लिए उनकी वकालत का सम्मान करने के लिए, उनके जन्मदिन को पूरे देश में बाल दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया गया। पहला बाल दिवस 1964 में मनाया गया था।

यह भी पढ़ें 👉  कविवर सुमित्रानंदन पंत की 124वीं जयंती उनके पैतृक गांव में समारोह पूर्वक मनाई गई, काव्य गोष्ठी आयोजित, साहित्यकार हुए सम्मानित

कार्यक्रम में वक्ताओं ने कहा कि नेहरू जी का जन्मदिन केवल नेहरू जी को श्रद्धांजलि नहीं है अपितु बच्चों की आकांक्षाओं और अधिकारों पर विचार करने का दिन भी है।

यह भी पढ़ें 👉  रानीखेत नगर के सौंदर्यीकरण के लिए व्यापार मंडल‌ चयनित स्थानों पर सेल्फी पॉइंट बनाएगा, छावनी परिषद सीईओ से मांगी अनापत्ति

कार्यक्रम की अध्यक्षता नगर अध्यक्ष उमेश भट्ट ने की ।
कार्यक्रम में पी०सी०सी० सदस्य कैलाश पांडे, श्रीमती विमला पांडेय, विश्व विजय सिंह माहरा, हेमंत मेहरा, कॉर्डिनेटर कुलदीप कुमार, विनय, जानूशीन, ईशु, श्रीवर्धन पांडेय, कीर्ति वर्धन, शौर्य वर्धन, विवान वर्मा, ऋषिता साह आदि लोग उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें 👉  बीर शिवा स्कूल चौखुटिया में पुलिस ने विद्यार्थियों को किया साइबर क्राइम के प्रति जागरूक