विद्युत क्षेत्र की उपलब्धि उजागर करने के लिए हुआ विद्युत महोत्सव का आयोजन,विधायक मेहरा ने किया शुभारंभ

ख़बर शेयर करें -

अल्मोड़ा 27 जुलाई, 2022 – आजादी के अमृत महोत्सव एवं  आजादी के 75 वें वर्ष  के उपलक्ष्य में  उज्जवल भारत उज्ज्वल भविष्य  विषय पर भारत  सरकार विद्युत मन्त्रालय, के अन्तर्गत आने वाले टी एच डी सी इन्ड़िया लि0 व राज्य सरकार के राज्य विद्युत वितरण खण्ड अल्मोड़ा  के संयुक्त सहयोग से  विद्युत महोत्सव का अल्मोड़ा फलसीमा स्थित  उदय शंकर नाट्य अकेडमी मे कार्यक्रम   आयोजित  किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ उपस्थित गणमान्य लोगों ने द्वीप प्रज्वलन कर किया। कार्यक्रम में मानस पब्लिक स्कूल, जीजीआईसी अल्मोड़ा एवं सेंट एग्नेस स्कूल के छात्र छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर लोगों को मंत्रमुग्ध किया।इस कार्यक्रम में विद्युत क्षेत्र की प्रमुख उपलब्धियों को उजागर किया गया।
                              कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जागेश्वर विधायक मोहन सिंह मेहरा ने कहा कि वर्तमान भारत सरकार एवं राज्य सरकार लगातार ऊर्जा के क्षेत्र में नए कीर्तिमान स्थापित कर रही है। उन्होंने कहा कि अल्मोड़ा जनपद में कोई भी ऐसा घर नहीं बचा है जहां बिजली की पहुंच सुनिश्चित न हो। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों से सरकार की उज्ज्वला योजना, दीनदयाल उपाध्याय ज्योति योजना एवं अन्य योजनाओं के माध्यम से हर घर को बिजली की पहुंच सुनिश्चित की गई है।
                               डीएम वंदना ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि किसी भी देश की तरक्की का आधार ऊर्जा होती है। उन्होंने सभी उपस्थित सभी अतिथियों से ऊर्जा संरक्षण की महत्ता के बारे में अपने विचार साझा किए  उन्होंने कहा कि बिजली महोत्सव संपूर्ण भारत में उज्ज्वल भारत उज्ज्वल भविष्य पवार /2047 के तत्वाधान में मनाया जा रहा है, ताकि अधिक से अधिक जनभागीदारी हो तथा बिजली के क्षेत्र के विकास को वृहद पैमाने पर लोगों तक पहुंचाया जा सके। जिलाधिकारी ने कहा कि देश आज ऊर्जा के क्षेत्र में आत्मनिर्भर राष्ट्र है। उन्होंने लोगों से ऊर्जा संरक्षण करने की अपील की। अधिशासी अभियंता यूपीसीएल कन्हैया मिश्रा ने बताया कि दीनदयाल उपाध्याय योजना के तहत कुल 232 तोकों का विद्युतीकरण किया गया है, जिसमे 362 कनेक्शन किए गए। इसी प्रकार सौभाग्य योजना से अल्मोड़ा में 10656 विद्युत संयोजन किए गए हैं। उन्होंने बताया कि आईपीडीएस योजना के तहत 6.65 करोड़ की लागत से पांडेखोला बिजली घर का निर्माण किया गया है।
                             कार्यक्रम में पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान, नगरपालिका अध्यक्ष प्रकाश जोशी, जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष ललित लटवाल, बीजेपी अध्यक्ष रवि रौतेला, डीडीओ केएन तिवारी, टीएचडीसी के हरीश चंद्र उपाध्याय समेत अन्य उपस्थित रहे।
                                           

यह भी पढ़ें 👉  रानीखेत में मां दुर्गा महोत्सव शुरू, मां दुर्गा पंडाल में हुई मां की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा,देवी के दर्शनार्थ श्रद्धालुओं का तांता
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.