सांसद प्रदीप टम्टा ने साहू प्रकरण पर रेखा आर्य का मांगा इस्तीफा,कहा अन्यथा सीएम करें उन्हें बर्खास्त

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड सरकार में बाल विकास एवं महिला कल्याण मंत्री रेखा आर्य के पति के खिलाफ हत्या के तीन दशक पूर्व के मामले में गैर ज़मानती वॉरंट जारी होने के बाद उत्तराखंड में कांग्रेस ने बीजेपी सरकार को घेरना शुरू कर दिया है। कांग्रेस के राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा ने रेखा आर्य से इस्तीफे की मांग की है।उन्होंने ये भी कहा कि अगर मंत्री इस्तीफा नहीं देती हैं, तो मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को उन्हें बर्खास्त करना चाहिए।

यह भी पढ़ें 👉  छावनी परिषद विद्यालय के विद्यार्थियों ने पुरजोश के साथ निकाली तिरंगा रैली, माहौल हुआ देश भक्ति से सराबोर

कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य के पति गिरधारी लाल साहू के ख़िलाफ़ बरेली के बहुचर्चित जैन दंपति हत्याकांड मामले में बरेली अपर सत्र न्यायालय ने गैर ज़मानती वारंट जारी किया है।इस पर कांग्रेस राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा ने रेखा आर्य का इस्तीफा मांगा है।प्रदीप टम्टा ने कहा, ‘हम चाहते हैं कि इस मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए और जब तक रेखा आर्य मंत्री पद पर हैं, निष्पक्ष जांच नहीं हो सकती।या तो आर्य खुद इस्तीफा दें या मुख्यमंत्री अपनी ईमानदार छवि साबित करें और उन्हें मंत्रिमंडल से हटा दें।’

यह भी पढ़ें 👉  पीजी कालेज रानीखेत में आजादी का अमृत महोत्सव अंतर्गत कई प्रतियोगिताओं के साथ हुआ वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली की वीरता पर‌ नाट्य मंचन

प्रदीप टम्टा ने ये भी कहा कि रेखा वर्मा के पति पर बहुत सारे मामलों में आरोप हैं लेकिन उनके खिलाफ किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं हो रही। ‘क्या उनको सरकार का संरक्षण मिला हुआ है? क्या उनको कोई बचा रहा है?’ ये सवाल पूछते हुए टम्टा ने कहा कि इसके लिए खुद मुख्यमंत्री को भी मामले की गंभीरता देखते हुए इन सब चीजों की जांच करानी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.