पुलिस और एसओजी टीम ने यूपी के स्मैक तस्कर को किया गिरफ्तार,यहां रहकर करता था कबाड़ का काम

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी: काठगोदाम थाना पुलिस और एसओजी की संयुक्त टीम ने उत्तर प्रदेश के स्मैक तस्कर को 105 ग्राम की स्मैक के साथ गिरफ्तार किया है। वह हल्द्वानी में कबाड़ का काम करता है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नैनीताल पंकज भट्ट द्वारा लक्ष्य नशा मुक्त नैनीताल बनाने हेतु मादक पदार्थों की बिक्री करने वाले तस्करों के विरुद्ध अपने-अपने थाना क्षेत्रों में लगातार चेकिंग अभियान चलाकर अवैध तस्करी करने वालों की धरपकड़ करने हेतु समस्त थाना प्रभारियों एवं चौकी प्रभारियों को निर्देशित किया है।

यह भी पढ़ें 👉  संपत्ति कर के‌ विरोध में चिलियानौला में व्यापारिक प्रतिष्ठान रहे बंद, आज संयुक्त मजिस्ट्रेट के साथ होगी नागरिक प्रतिनिधियों की बातचीत

एसपी क्राईम/ट्रैफिक नैनीताल डॉ0 जगदीश चंद्र के पर्यवेक्षण एवं एस0पी0सिटी हल्द्वानी हरबन्स सिंह तथा सीओ हल्द्वानी भूपेंद्र सिंह धौनी के निर्देशन में थानाध्यक्ष काठगोदाम प्रमोद पाठक और

प्रभारी एसओजी नैनीताल राजवीर नेगी तथा एडीटीएफ की संयुक्त पुलिस टीम द्वारा मंगलवार को चैकिंग के दौरान अभियुक्त सग्गन पुत्र कमसर निवासी ग्राम ओझा पो0 व थाना बिनावर जिला बदायूं उत्तर प्रदेश को 105 ग्राम स्मैक की तस्करी करते हुये जी0एस0टी0 भवन गेट के पास कैनाल रोड़ की तरफ काठगोदाम गिरफ्तार किया गया है। पूछताछ में अभियुक्त द्वारा बताया कि वह हल्द्वानी में कबाड़ का काम करता है अपने गांव आते जाते समय यह स्मैक अकसर अपने गाँव के ही रहने वाले व्यक्ति जिला बदांयू उत्तर-प्रदेश से हमेशा की तरह खरीद कर हल्द्वानी व पहाड़ी इलाकों बेच देता है । जिससे काफी मुनाफा हो जाता है ।

यह भी पढ़ें 👉  छावनी परिषद से आज़ादी हासिल करने के लिए 344वें दिन भी धरना रत रहे नागरिक

अभियुक्त के विरूद्द थाना काठगोदाम में एफआईआर न0 16 /23 धारा 8/21 एनडीपीएस एक्ट के अन्तर्गत अभियोग पंजीकृत किया गया। नैनीताल पुलिस का नशा मुक्त नैनीताल अभियान लागातार जारी रहेगा । अभियुक्त का अपराधिक इतिहास के बारे में अन्य बाहरी थानों से जानकारी प्राप्त की जा रही है।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी ख़बर -हल्द्वानी हिंसा का मुख्य आरोपी अब्दुल मलिक गिरफ्तार, दिल्ली से हुई गिरफ्तारी

सफलता पाने वाली पुलिस टीम में थानाध्यक्ष काठगोदाम प्रमोद पाठक, प्रभारी एसओजी राजवीर सिंह नेगी, प्रभारी चौकी मल्ला काठगोदाम फिरोज आलम, कांस्टेबल उमेश प्रशाद, कांस्टेबल भानू प्रताप ( एसओजी ),

कांस्टेबल दिनेश नगरकोटि ( एसओजी ) थे। सफलता प्राप्त करने वाली टीम को आई0जी कुमायूॅ नीलेश आनन्द भरणे द्वारा 10000/- और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नैनीताल पंकज भटट द्वारा 5000/- हजार रू0 नगद पुररूकार देने की घोषण की गयी।