छावनी परिषद से सिविल एरिया पृथक करने के प्रस्ताव का संघर्ष समिति ने किया स्वागत, धामी कैबिनेट, स्थानीय जनता और डीएम का जताया आभार

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत– छावनी परिषद से सिविल एरिया को पृथक कर नगर पालिका में विलय करने की मांग पर‌ रानीखेत विकास संघर्ष समिति का धरना-प्रदर्शन गांधी चौक में 301वें दिन भी जारी रहा। संघर्ष समिति ने तत्संबंधी प्रस्ताव पर सैद्धांतिक सहमति व्यक्त करने के लिए धामी कैबिनेट का आभार जताया,साथ ही इसे रानीखेत के नागरिकों के गांधीवादी आंदोलन की पहले चरण की जीत बताया।

यह भी पढ़ें 👉  रानीखेत महाविद्यालय के छात्र -छात्राओं ने नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से मतदाताओं को किया जागरूक

यहां गांधी चौक में रानीखेत विकास संघर्ष समिति का धरना-प्रदर्शन आज 301वें दिन जारी रहा । संघर्ष समिति ने छावनी के सिविल क्षेत्र को छावनी परिषद से अलग करने हेतु सैध्दांतिक सहमति के लिए धामी कैबिनेट का आभार व्यक्त किया साथ ही पहले चरण की इस सफलता को रानीखेत के नागरिकों द्वारा 301दिन से किए जा रहे गांधीवादी आंदोलन की जीत बताते हुए आंदोलन को समर्थन व सहयोग देने के लिए रानीखेत के समस्त संगठनों क्रमशः व्यापार मंडल, छात्र संघ, बार एसोसिएशन, मातृ शक्ति का आभार व्यक्त किया, साथ ही जिलाधिकारी का भी नागरिकों का पक्ष मजबूती से रखने के लिए आभार व्यक्त किया।

यह भी पढ़ें 👉  रानीखेत महाविद्यालय के छात्र -छात्राओं ने नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से मतदाताओं को किया जागरूक

संघर्ष समिति ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा पूर्ण रुप से छावनी परिषद से सिविल एरिया को पृथक किए जाने तक आंदोलन यथावत जारी रहेगा।

यह भी पढ़ें 👉  रानीखेत महाविद्यालय के छात्र -छात्राओं ने नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से मतदाताओं को किया जागरूक

धरना प्रदर्शन में खजान जोशी,रघुवर दत्त शर्मा, हरीश अग्रवाल, अशोक पाण्डे, हेमंत मेहरा,दीप भगत,दीपक गर्ग,दीपक साह, प्रमोद कांडपाल, हरीश मैनाली,खजान पांडे,चारू पंत, राजेन्द्र अग्रवाल, चंद्र शेखर गुरूरानी,डी सी साह, मनोज पाण्डे,एल डी पांडे मौजूद रहे।