शासन के साथ आज बिजली कर्मियों की वार्ता विफल,आधी रात से अंधकार,कर लीजिए वैकल्पिक रोशनी का इंतजाम

ख़बर शेयर करें -

देहरादून :-अगर आप अब तक इस इंतजार में बैठे हैं कि विद्युत कर्मचारियों की हड़ताल टल जाएगी तो आपको बता दें कि विद्युत अधिकारी -कर्मचारी संयुक्त मोर्चा की आज शासन से बात नहीं बन पायी और वार्ता विफल होने का सीधे तौर पर मतलब यही है बेमियादी हड़ताल आज आधी रात तय समय से होगी इसलिए वैकल्पिक रोशनी का इंतजाम करने के बाद ही सोइए।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तरकाशी: एवलांच हादसे में 26 शव बरामद,तीन की खोजबीन जारी

शासन के साथ वार्ता विफल होने के बाद अभी ऊर्जा सचिव से एक दौर की वार्ता होनी है।वार्ता बेनतीजा रहने के बाद सरकार के विरूद्ध विद्युत कर्मियों ने आर-पार की लडा़ई का ऐलान करने हुए आज सड़कों पर रैली निकाली और धरना प्रदर्शन करते हुए मध्य रात्रि से हड़ताल पर जाने की बात कही है। उर्जा निगम के दस संगठनों के 35सौ कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने का सीधा मतलब है विद्युत आपूर्ति और उत्पादन पर असर पडे़गा।इसीलिए विद्युत अधिकारी कर्मचारी संगठन उपभोक्ताओं से रोशनी का वैकल्पिक इंतजाम मसलन टार्च ,मोमबत्ती आदि रखने की अपील पहले ही कर चुका है।

यह भी पढ़ें 👉  प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष को लेकर क्षेत्रीय विधायक के अनर्गल वक्तव्य से नाराज़ कार्यकर्ताओं ने फूंका क्षेत्रीय विधायक नैनवाल का पुतला


ऊर्जा कर्मचारी संगठन के प्रवक्ता दीपक बेनीलाल ने बताया कि शासन के साथ सोमवार को हुई वार्ता विफल रही है लिहाजा अब हड़ताल के अलावा दूसरा विकल्प नहीं बचा है।
इस बीच शासन से वार्ता विफल होने और ऊर्जा मंत्री के कड़े बयान से आहत कर्मचारी आक्रोश में हैं और स्थिति विद्युत उपभोक्ताओं के लिए तकलीफदेह होती दिख रही है।राज्य के सबसे बड़ा कर्मचारी संगठन जनरल ओबीसी एम्पलाइज एसोसिएशन भी खुलकर ऊर्जा निगम के आंदोलित कर्मियों का समर्थन किया है।

यह भी पढ़ें 👉  दरोगा भर्ती 2015 को लेकर बड़ी खबर, दोषियों के विरूद्ध अभियोग पंजीकृत करने के आदेश जारी

अपनी चौदह सूत्रीय मांगों को लेकर रैली निकालते उर्जा कर्मचारी

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.