रानीखेत विकास संघर्ष समिति का धरना-प्रदर्शन 153वें दिन जारी, केंद्र सरकार से सिविल आबादी को राज्य निकायों में शामिल करने के अपने नीतिगत फैसले को शीघ्रता से अमल में लाने का किया आग्रह

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत– छावनी परिषद् से नागरिक क्षेत्र को मुक्त कर रानीखेत-चिलियानौला नगरपालिका परिषद में विलय किए जाने की मांग पर रानीखेत विकास संघर्ष समिति का यहां गांधी चौक में धरना-प्रदर्शन आज 153वें दिन भी जारी रहा।

यह भी पढ़ें 👉  इस बार उत्तराखंड में 2019 की‌ तुलना में कम हुआ मतदान,पूरे प्रदेश में 53.56मतदान, उदासीन दिखा मतदाता

धरना स्थल पर आंदोलनकारियों ने छावनी से मुक्ति दिलाने की मांग पर जोरदार नारेबाजी की साथ ही केंद्र सरकार से आग्रह किया छावनी परिषदों को खत्म कर यहां की सिविल आबादी को राज्य निकायों में शामिल करने के अपने नीतिगत फैसले को शीघ्रता से अमल में लाए। धरने में नगर के वरिष्ठ नागरिक, व्यापारी , होटलियर्स शामिल रहे।

यह भी पढ़ें 👉  वोट डालने हल्द्वानी जा रहे चिकित्सक की कार अनियंत्रित होकर खाई में गिरी, हुई मौत,