पहली बर्फबारी से लकदक हुए पहाड़, पांडवखोली में रविवार की रात जमकर हुई बर्फबारी से नैसर्गिक छटा और निखर आई (देखें फोटो , वीडियो)

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत -उत्तराखंड में हुई बर्फबारी ने पारा गिरा दिया है। तीसरे दिन भी बारिश-बर्फबारी का दौर जारी है।लंबे ड्राई स्पैल के बाद कई इलाकों में इस सीजन की पहली बर्फबारी हुई है। उधर, उत्तराखंड के कई जिलों में बारिश तो कही बर्फबारी हुई है। प्रसिद्ध पांडवखोली और भरतकोट में गुरुवार को पहली बर्फबारी के बाद रविवार को भी जमकर बर्फबारी होने से समूचा क्षेत्र बर्फ से लकदक हो गया।

यह भी पढ़ें 👉  वोट डालने हल्द्वानी जा रहे चिकित्सक की कार अनियंत्रित होकर खाई में गिरी, हुई मौत,

प्रदेश के ऊंचाई वाले क्षेत्र बर्फ से लकदक हो गए हैं। जबकि अन्य क्षेत्रों में बारिश दर्ज हुई है। कई जगह बर्फबारी की आस में पहले से पहुंचे सैलानी बर्फ के फाहे गिरते देख झूम उठे। लेकिन पहली बर्फबारी दुश्वारियां लेकर भी नमूदार हुई है , पहाड़ों में कई जगह संपर्क अन्य भागों से कट गया है कुछ जगह बिजली आपूर्ति ठप है।बर्फबारी के बाद कई पर्वतीय मार्ग बंद हैं। बर्फबारी से जहां ठंड में इजाफा हुआ है, वहीं किसानों, बागवानों को भी राहत मिली है। 

यह भी पढ़ें 👉  भतरौंजखान- भिकियासैंण मार्ग में दर्दनाक हादसा,बाइक सवार युवक की मौत,एक घायल

पांडवखोली में रविवार को भी जमकर बर्फबारी हुई जिसकारण इस ऊंचाई वाले मनोरम स्थल की छटा देखते ही बनती है। भीम की गुदड़ी पर बर्फ की सफेद चादर बिछ गई है। यहां गुरुवार को बर्फबारी की शुरुआत हुई थी । रविवार की रात्रि भी जमकर बर्फ के मोटे फाहे गिरते रहे। जिसकारण इस मनोरम स्थल का प्राकृतिक सौंदर्य और अधिक निखर आया है। (सभी चित्र पांडवखोली)

यह भी पढ़ें 👉  इस बार उत्तराखंड में 2019 की‌ तुलना में कम हुआ मतदान,पूरे प्रदेश में 53.56मतदान, उदासीन दिखा मतदाता