जी.जी.आई.सी. द्वाराहाट में मनाया गया हिंदी दिवस, हिंदी की उपयोगिता और महत्व पर डाला प्रकाश

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत -रा. बा. इ. का.द्वाराहाट में 14सितंबर को हिंदी दिवस मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि भूतपूर्व प्रधानाध्यापक शंकर दत्त तिवारी एवं प्रधानाचार्या तनुजा जोशी के दीप प्रज्ज्वलन के साथ हुआ।

कार्यक्रम को प्रारम्भ करते हुए प्रवक्ता हिंदी डॉ मंजू रावत ने हिंदी को वैज्ञानिक भाषा बताते हुए हिंदी के महत्व एवं उपयोगिता पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर कक्षा -6 की छात्राओं द्वारा संज्ञा सर्वनाम,विशेषण एवं क्रिया पर आधारित गतिविधि प्रस्तुत की।छात्रा कशिश नेगी, पावनी साह, मिहिका हर्बोला ने जयशंकर प्रसाद, रामधारी सिंह दिनकर एवं हरिशंकर परसाई के कविताओं एवं व्यंग्य प्रस्तुत किये।प्रवक्ता माया मेहरा ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की कविता कदम मिलाकर चलना होगा, संगीत शिक्षिका सुरभि पंत ने स्वरचित कविता इंसान ढूँढता हूँ एवं देवकी जोशी एवं प्रेमा जोशी ने कबीर के दोहे प्रस्तुत किये। मुख्य अतिथि शंकर दत्त तिवारी ने हिंदी के महत्व को आदिकाल से लेकर आधुनिक काल तक विस्तार से बताया। अपनी स्वरचित कविता किताबें कहती हैं का काव्यपाठ किया। प्रधानाचार्या तनुजा जोशी ने हिंदी राजभाषा के महत्व पर प्रकाश डालते हुए संकलित कविता हिंदी की फुलवारी का वाचन किया। इस अवसर पर सभी शिक्षिकाएं उपस्थित रहीं।

यह भी पढ़ें 👉  चुनाव ड्यूटी से लौट रहा टीचर सड़क हादसे का शिकार, अज्ञात वाहन की टक्कर से मौत