गुलदार प्रभावित गांव सिंगोली में आज वन विभाग ने लगाया पिंजरा, बुजुर्ग महिला पर हमले के बाद‌ से‌ गुलदार की‌ दहशत में जी रहे ग्रामीण

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत: ताड़ीखेत विकासखण्ड अंतर्गत गुलदार प्रभावित गांव सिंगोली में बुधवार को वन विभाग की टीम ने स्थानीय ग्रामीणों के साथ मिलकर पिंजरा लगाया है।

इससे पहले वन विभाग की टीम ने वन क्षेत्राधिकारी तापस मिश्रा की अगुवाई में गुलदार प्रभावित क्षेत्र का निरीक्षण भी किया था और चार कैमरा ट्रैप लगाए थे। विभागीय टीम को गुलदार के क्षेत्र में होने के अंदेशे के चलते क्षेत्रवासियों की सुरक्षा के लिए वन विभाग की टीम ने पिंजरा लगा दिया है। बता दें कि पूर्व में एक बुजुर्ग महिला कमला देवी पर गुलदार के हमले के बाद ग्रामीणों द्वारा पिंजरा लगाने की मांग की गई थी। ग्रामीणों का कहना था कि गुलदार के बुजुर्ग महिला पर हमले के बाद गांव में मवेशियों को शिकार बना रहा है। पिंजरा नहीं लगने से ग्रामीणों को खतरा है। गुलदार की दहशत से कई अभिभावक बच्चों को स्कूल भी नहीं भेज रहे हैं। ग्रामीणों का खेतों में काम करना और जंगल जाना मुश्किल हो रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने संयुक्त मजिस्ट्रेट को ज्ञापन देकर की रोडवेज स्थित ट्यूबवेल से नगर में पानी बांटे जाने की मांग

विभाग के अनुसार आमद वाले क्षेत्र में गुलदार पिछले महीनों में कई बार दिखाई देता रहा है जिसके बाद क्षेत्र में गुलदार को पकड़ने के लिए पिंजरा लगाना जरुरी हो गया था।

यह भी पढ़ें 👉  कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने संयुक्त मजिस्ट्रेट को ज्ञापन देकर की रोडवेज स्थित ट्यूबवेल से नगर में पानी बांटे जाने की मांग