बीती रात देहरादून के निकट हुई अतिवृष्टि से भारी तबाही,हरीश रावत‌ ने‌ डोईवाला टोल पर छूट की मांग‌ की

ख़बर शेयर करें -

शुक्रवार से हो रही बारिश से जगह-जगह भारी नुक़सान की खबर है। अतिवृष्टि के कारण बांदल घाटी में तबाही का मंजर देखने को मिल रहा है। मकान,वाहन,जमीन ,सड़कें,बारिश‌ का शिकार हुई हैं‌। जान माल के नुकसान की भी खबर है। प्रशासन की टीमें मौके पर राहत बचाव कार्य मे जुटी हुई है। सौंग, चिफल्डी, बांदल और बरडी ये 4 नदियां भारी तबाही लायी हैं। घुड़साल गांव रंगड़ गांव मे भी आपदा से भारी नुकसान हुआ है। इधर मंत्री गणेश जोशी मौके पर हैं उन्होंने अपने आज के सभी कार्यक्रम स्थगित कर दिए हैं।इधर सीएम पुष्कर सिंह धामी भी हालात पर पूरी नजर रखे हुए हैं उन्होंने बचाव व राहत कार्यों में तेजी लाने के निर्देश संबंधित प्रशासन को दिए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  केआरसी सेंटर आफिस में 21जून को आयोजित होगा भूतपूर्व सैनिक मेला, सभी भूतपूर्व सैनिकों से मेले में शिरकत कर अपनी समस्याएं बताने की अपील

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने पहाड़ सहित देहरादून पर आई आपदा पर अपनी चिंता प्रकट करते हुए तत्काल कार्रवाई की माँग करते हुए देहरादून के डोईवाला टोल पर छूट की माँग की है उन्होंने कहा कि कल रात की दैवीय आपदा उत्तराखंड पर फिर भारी पड़ी। दूरस्थ क्षेत्रों के तो अभी समाचार नहीं हैं, मगर यही मालदेवता से आगे PPCL जहां पहले खनन का एरिया था और सरखेत व सीतापुर गांव है, वहां कुछ लोगों के दबकर के मरने और कुछ मकानों के टूटने आदि की खबर है। पता चला कि गांव वालों ने रात भर पहाड़ी में चढ़कर अपनी जान बचाई है और वही स्थिति यहां पर सोड़ा रायपुर का जो पुल है, एयरपोर्ट जाने वाला वह भी बह गया है। श्री रावत ने कहा कि‌ यह इतना पुराना पुल, बड़ा मजबूत पुल था और भी गांवों में कई जगह पानी घुसने से क्षति के समाचार हैं। भगवान, काल कल्वित हुए लोगों को अपने श्रीचरणों में स्थान दें ।

यह भी पढ़ें 👉  केआरसी सेंटर आफिस में 21जून को आयोजित होगा भूतपूर्व सैनिक मेला, सभी भूतपूर्व सैनिकों से मेले में शिरकत कर अपनी समस्याएं बताने की अपील

उन्होंने कहा एक काम जिसको जिला प्रशासन को तत्काल करना चाहिए जो डोईवाला पर टोल बैरियर है, उस टोल बैरियर को क्योंकि अब सब लोग जो लोग भी इधर से जाते थे, उन लोगों को घूम कर के डोईवाला व एयरपोर्ट होकर के जाना पड़ेगा तो उनके टोल पर छूट दे दी जाए, जब तक यह पुल या वैकल्पिक रास्ता नहीं बन जाता।

यह भी पढ़ें 👉  केआरसी सेंटर आफिस में 21जून को आयोजित होगा भूतपूर्व सैनिक मेला, सभी भूतपूर्व सैनिकों से मेले में शिरकत कर अपनी समस्याएं बताने की अपील