पोस्टल बैलेट मतदान का वीडियो वायरल करने वाले जवान 2कुमाऊं रेजिमेंट के,पुलिस ने जवानों को जारी किया नोटिस

ख़बर शेयर करें -

पिथौरागढ़: हाल में पोस्टल बैलेट से एक ही व्यक्ति के द्वारा अन्य साथियों का भी मत देने का वीडियो भारतीय सेना की दो कुमाऊं रेजीमेंट के जवानों ने जम्मू से जारी किया था। पुलिस ने जवानों की पहचान कर ली है। इस मामले में वीडियो में दिख रहे जवान के साथ ही पांच जवानों को पूछताछ के लिए नोटिस भेजा गया है। जवानों को पुलिस ने एक सप्ताह का समय दिया है।
बता दें कि विधानसभा चुनाव में डीडीहाट विस क्षेत्र में पोस्टल बैलेट से मतदान का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ था। इस वीडियो में सेना की वर्दी में दिख रहा एक जवान सभी के नाम से स्वयं मतदान करता नजर आ रहा था। वीडियो में जवानों के बीच की बातचीत भी रिकॉर्ड हुई है, जिसमें जवान एक राष्ट्रीय दल या निर्दलीय के सामने हस्ताक्षर करने का सुझाव दे रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  छावनी परिषद से मुक्ति के लिए 341वें दिन भी धरनारत रहे नागरिक, गांधी पार्क में रही नारेबाजी की गूंज

इस मामले की शिकायत डीडीहाट विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस प्रत्याशी प्रदीप पाल ने जिला निर्वाचन अधिकारी और पुलिस से की थी। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भी इस मामले में ट्वीट करते हुए चुनाव आयोग से संज्ञान लेने की मांग की थी। 
मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने डीडीहाट थाने में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। पिथौरागढ़ के एसपी लोकेश्वर सिंह के निर्देश पर डीडीहाट थाना पुलिस से एक जांच टीम गठित की थी। सर्विलांस सेल की भी मदद ली गई। पुलिस की जांच में यह वीडियो भारतीय सेना की दो कुमाऊं रेजीमेंट से जुड़ा है। पुलिस ने वीडियो में नजर आ रहे जवानों को नोटिस जारी किया है। जवानों को जांच अधिकारी के समक्ष अपना पक्ष रखने के लिए एक सप्ताह का समय दिया गया है। जम्मू कश्मीर से वीडियो बनाकर जवानों ने डीडीहाट में जिस व्यक्ति को वीडियो भेजा था उसकी भी पहचान कर ली गई है। उस व्यक्ति के भी मजिस्ट्रेट के सामने बयान कराए गए हैं।