रानीखेत विकास संघर्ष समिति ने लोक सभा चुनाव बहिष्कार को लेकर नगर में शुरू किया जन जागरण अभियान

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत– रानीखेत में नागरिक आबादी को छावनी परिषद से मुक्त कर नगर पालिका परिषद में शामिल करने सहित अन्य लंबित समस्याओं का निदान न होने से क्षुब्ध नागरिकों ने लोक सभा सामान्य निर्वाचन सहित भविष्य में सभी चुनावों के बहिष्कार का ऐलान करते हुए आज से इस हेतु जन जागरण अभियान शुरू किया।

ध्यातव्य है कि रानीखेत विकास समिति नगर पालिका परिषद में विलय की मांग पर एक वर्ष तक धरना-प्रदर्शन जारी रखने के बाद लोक सभा चुनाव के बहिष्कार की घोषणा कर चुकी है।आज पू्र्व निर्धारित कार्यक्रम अनुसार समिति के सदस्यों ने नगर में लोकसभा चुनाव के बहिष्कार कर लेकर जन जागरण अभियान की शुरुआत की।इस दौरान समिति सदस्यों ने नागरिकों के बीच पर्चा वितरित कर नगर -क्षेत्र की लम्बित समस्याओं का निराकरण न होने तक लोकसभा सहित भविष्य के किसी‌ भी चुनाव में मतदान न करने की अपील की।

यह भी पढ़ें 👉  प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल‌ की जिला इकाई की बैठक में उठी व्यापारिक व क्षेत्रीय समस्याएं, व्यापारियों की एकजुटता पर बल

रानीखेत विकास समिति ने कहा कि रानीखेत क्षेत्र के लोग नगर पालिका,जिला निर्माण सहित पर्यटन विकास के मामले‌ में हमेशा छले जाते रहे हैं,ऐसे में अपने वोट से जन प्रतिनिधि या सरकारें चुनने का कोई औचित्य नहीं है। क्योंकि अब तक आती -जाती सरकारों के हाथों लोग ठगे ही गए हैं ऐसे में चुनाव बहिष्कार ही निराश लोगों के पास लोकतांत्रिक ढंग से विरोध का मात्र तरीका है।

यह भी पढ़ें 👉  प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल‌ की जिला इकाई की बैठक में उठी व्यापारिक व क्षेत्रीय समस्याएं, व्यापारियों की एकजुटता पर बल

जन जागरण अभियान में रानीखेत विकास संघर्ष समिति के गिरीश भगत, मुकेश साह,अशोक पांडे, खजान पांडे, एल डी पांडे,दीपक गर्ग, हरीश अग्रवाल, हरीश मैनाली,अनिल वर्मा,दीपक साह आदि शामिल रहे।

यह भी पढ़ें 👉  प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल‌ की जिला इकाई की बैठक में उठी व्यापारिक व क्षेत्रीय समस्याएं, व्यापारियों की एकजुटता पर बल