रानीखेत महाविद्यालय में नशामुक्ति कार्यशाला आयोजित,नशे के गंभीर परिणामों के प्रति किया सचेत

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत -स्व जय दत्त वैला स्नातकोत्तर महाविद्यालय रानीखेत की एंटी ड्रग सेल द्वारा नशामुक्ति पर एक कार्यशाला का आयोजन किया गया।
जिसमे नशामुक्ति पर छात्र-छात्राओं ने अपने शानदार विचार रखे। कविता पाठ किया, साथ ही नशे के कारण और प्रभाव पर विचार विमर्श किया।
यह आयोजन एंटी ड्रग सेल के तत्वावधान में एनएसएस और समाजशास्त्र विभाग के सहयोग से किया गया।
कार्यशाला का शुभारंभ प्राचार्य प्रोफेसर पुष्पेश पांडे द्वारा किया गया, उन्होंने विद्यार्थियों को इस कार्यशाला के शुभकामनाएं दीं एवं नशामुक्ति अभियान के महत्व तथा इसके गम्भीर परिणामों से छात्र छात्राओं को सचेत किया।
ततपश्चात भूमिका, महक, भास्कर मेहरा, अक्षय कुमार ने स्पीच देकर नशे के दुष्परिणामों एवं दुष्प्रभावों के विषय मे बताया।गीतांजलि जोशी ने अपनी शानदार सुंदर कविता द्वारा सभी को भावविभोर किया।
कार्यशाल में डॉ विजय बिष्ट भौतिक विज्ञान विभाग ने बच्चों को सम्बोधित किया। डॉ विजय बिष्ट ने विद्यार्थियों को बताया कि किस प्रकार हमारे युवा नशे को शौक-शौक में शुरू करके इसकी लत की चपेट में आ जाते हैं जिसका दुष्परिणाम उसके साथ साथ उसके परिवार और समाज पर भी पड़ता है। इस कार्यशाला का आयोजन विशेष रूप से बीए प्रथम वर्ष के छात्र-छात्राओं के साथ किया गया।
कार्यक्रम का संचालन डॉ कमला (सदस्य एंटी ड्रग सेल, एनएसएस कार्यक्रम अधिकारी समाजशास्त्र विभाग ) द्वारा किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  रानीखेत नगर के सौंदर्यीकरण के लिए व्यापार मंडल‌ चयनित स्थानों पर सेल्फी पॉइंट बनाएगा, छावनी परिषद सीईओ से मांगी अनापत्ति