राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, रानीखेत के संस्कृत विभाग ने सप्त दिवसीय संस्कृत सप्ताह महोत्सव मनाया

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत: स्व० श्री जयदत्त वैला स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, रानीखेत के संस्कृत विभाग द्वारा संस्कृत सप्ताह महोत्सव(8से 14अगस्त) का आज तृतीय दिवस का कार्यक्रम हर्षोल्लास से मनाया गया। संस्कृत सप्ताह के तृतीय दिवस पर संस्कृत विभाग में माँ सरस्वती की वन्दना एवं दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया ।

तृतीय दिवस की प्रात: बेला पर संस्कृत विभाग के प्राध्यापक डॉ॰ अंकित मनोड़ी ने छात्र छात्राओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि संस्कृत भाषा सर्वप्राचीन भाषा है तथापि यह भाषा आधुनिक ही है, जिसका चिन्तन, मनन, निदिध्यासन, बहुत ही गहन है, संस्कृत भाषा में अनेक सरस काव्य, महाकाव्य हैं जो सरलता पूर्वक अभ्यास योग्य और श्रेष्ठ दर्शन से युक्त है ऐसी मधुर संस्कृत भाषा को हम सभी को अधिकाधिक जानना चाहिए ।

यह भी पढ़ें 👉  अब कलम से छलक रहा कहीं दर्द.. कहीं गुस्सा।..अबकी बार फिर मारी गईं है अंकिता !

संस्कृत महोत्सव के तृतीय दिवस पर संस्कृत विभाग में प्रश्नमञ्च प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें 22 से अधिक छात्र छात्राओं द्वारा प्रतिभाग किया गया । प्रतियोगिता का परिणाम
कु० भावना BA चतुर्थ सेमेस्टर ने प्रथम स्थान प्राप्त किया ।
ललिता पन्त BA पञ्चम सेमेस्टर ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया ।
अञ्जू नेगी BA प्रथम सेमेस्टर ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।
दीपिका आर्या BA चतुर्थ सेमेस्टर ने चतुर्थ स्थान प्राप्त किया ।

यह भी पढ़ें 👉  रानीखेत में मां दुर्गा महोत्सव शुरू, मां दुर्गा पंडाल में हुई मां की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा,देवी के दर्शनार्थ श्रद्धालुओं का तांता

प्रतियोगिता के निर्णायक मण्डल के रूप में डॉ० सुमन फुलारा व डॉo प्रतीक शर्मा ने भूमिका निभाई ।

          अंग्रेजी विभाग की प्राध्यापिका डॉo निधि पाण्डे द्वारा प्रतिभागियों, निर्णायकों एवम् अन्य विभागीय प्राध्यापकों का धन्यवाद ज्ञापन किया।
    इस अवसर पर डॉo सुमिता गड़कोटी, डॉ॰ रूपा, डॉo छत्रपति, लक्ष्मी, ललिता, हन्सी, रेनू, नेहा, कैलाश, आदि उपस्थित रहे ।
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.