अनुसूचित वर्ग को जो सम्मान मोदी सरकार में मिला वो पूर्ववर्ती सरकारों में नहीं मिला-धर्मवीर

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत :-भारतीय जनता पार्टी अनुसूचित जाति मोर्चा मंडल कार्य समिति की बैठक में केंद्र व राज्य सरकार की उपलब्धियों को घर-घर तक पहुंचाने का संकल्प लिया गया।बैठक में कहा गया कि अनूसूचित वर्ग को जितना सम्मान मोदी सरकार में मिला इतना पूर्ववर्ती किसी सरकारों में नहीं मिला।पूर्व की सरकारें अनुसूचित वर्ग को वोट बैंक के रूप में इस्तेमाल करती रहीं।
भारतीय जनता पार्टी अनुसूचित जाति मोर्चा के जिलाध्यक्ष धर्मवीर आर्या ने बतौर मुख्य अतिथि बैठक में बोलते हुए कहा कि जो सम्मान मोदी सरकार में अनुसूचित वर्ग को मिल रहा है वह पूर्व की सरकारों में नहीं मिला ।मोदी सरकार मंत्रिमंडल में अनुसूचित वर्ग को जितनी भागीदारी दी है इतनी पहले कभी नहीं मिली।मोदी सरकार में 12 एससी मंत्री और 28 पिछड़े वर्ग के मंत्री शामिल हैं।उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने अनुसूचित जाति को पूरा सम्मान दिया जबकि कांग्रेस ने केवल एससी जाति के लोगों को वोट बैंक की तरह ही देखा।

यह भी पढ़ें 👉  'आजादी का अमृत महोत्सव'के अंतर्गत छावनी इंटर‌ कालेज के‌ विद्यार्थियों ने नुक्कड़ नाटक के जरिए‌ दिया देश प्रेम का संदेश
अनुसूचित मोर्चा जिलाध्यक्ष का स्वागत करते मोर्चा के नगर अध्यक्ष

उन्होंने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि उन्होंने बावा भीमराव आंबेडकर के नाम से कोई भी राष्ट्रीय स्मारक नहीं बनाया जबकि भाजपा की केंद्र और राज्य सरकारों ने उनको पूरा सम्मान दिया है। भीम एप भी बनाया। धर्मवीर आर्या ने कहा कि भाजपा सरकार ने गरीबों के लिए साढे़ आठ करोड़ गैस कनेक्शन, 10 करोड़ शौचालय जिसमें से तीन करोड़ शौचालय एससी जाति के बने हैं।
बैठक में विधान सभा चुनाव 2022 की तैयारियों के मद्देनजर भी चर्चा हुई और केंद्र तथा राज्य सरकार की उपलब्धियों को घर-घर तक पहुंचाने का संकल्प लिया गया। बैठक का संचालन नगर महामंत्री आकाश चौधरी व अभिषेक कुमार ने किया जबकि अध्यक्षता नगर अध्यक्ष विपिन भार्गव ने की। नगर कार्यकारिणी ने जिलाध्यक्ष को चुनाव हेतु तन -मन -धन से जुटने का विश्वास दिलाया।बैठक मेंनगर उपाध्यक्ष जगदीश आर्या, रंजीत राजोरिया ,नितिन कुमार,ललिता आर्या,नगर कोषाध्यक्ष सुमित कुमार ,मीडिया प्रभारी अमित कुमार ,नगर मंत्री विशाल कुमार ,विपिन,शिवम,कार्यकारिणी सदस्य देवेन्द्र आर्या सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  कांग्रेस की 'भारत जोड़ो तिरंगा यात्रा' देश भक्ति गीतों और स्वतंत्रता सेनानियों की गाथा‌ लेकर‌ पहुंची गांव -गांव

Leave a Reply

Your email address will not be published.