एसडीएम ने संभावित कोरोना तीसरी लहर के दृष्टिगत चिकित्सालय का निरीक्षण किया,साथ ही बच्चा वार्ड में मनोरंजक स्टिकर लगाने का सुझाव भी दिया

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत :-कोरोना की संभावित तीसरी लहर को लेकर अब प्रशासन सतर्क दिखाई दे रहा है। उपजिलाधिकारी गौरव पांडेय ने यहां गोविंद सिंह माहरा राजकीय चिकित्सालय का निरीक्षण कर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक और चिकित्सकों को आवश्यक दिशा निर्देेेश दिए। उन्होंने कहा कि आॅक्सीजन की कमी नहीं होनी चाहिए।बच्चा वार्ड में सुविधाएं की भी उन्होंने जानकारी हासिल की और चिकित्सालय के पिडियाट्रिक वार्ड (बच्चा वार्ड) में बच्चों के मनोरंजन के लिए आकर्षक स्टिकर लगाए जाने को कहा।

यह भी पढ़ें 👉  गांव-गांव देखने को मिला आजादी का जश्न, ग्राम सभा खनिया में ग्रामीणों ने किया ध्वजारोहण, महिलाओं के देशभक्ति गीतों से‌ बही देशप्रेम की बयार

आज उपजिलाधिकारी गौरव पांडेय ने कोरोना की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए उपमंडल के सबसे बड़े राजकीय चिकित्सालय का निरीक्षण किया। बच्चा वार्ड में बच्चों के मनोरंजन के लिए आकर्षक स्टिकर लगाने के सुझाव भी दिए। कहा कि आक्सीजन सप्लाई की कमी नहीं होनी चाहिए। उन्होंने निर्माणाधीन आक्सीजन जेनरेशन प्लांट को भी देखा और प्लांट के कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए।उपजिलाधिकारी ने चिकित्सकों से पूरी तरह अलर्ट मोड में रहने को कहा। उन्होंने कहा कि किसी भी तरह की लापरवाही को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
इस निरीक्षण के दौरान अधीक्षक डॉ. के के पांडेय ने अस्पताल द्वारा की जा रही व्यवस्थाओं के बारे में उप जिलाधिकारी को विस्तार से जानकारी दी। वरिष्ठ चिकित्साधिकारी डा. वीके गड़कोटी ने कहा कि तीसरी लहर से निपटने के लिए पर्याप्त व्यवस्था की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.