इंटर कालेज ख़िरखेत में बहुउद्देशीय विधिक जागरूकता शिविर का उच्च न्यायालय के वरिष्ठ न्यायाधीश मनोज तिवारी ने किया शुभारंभ, ज़रूरतमंदों के लिए न्याय व्यवस्था में किए गए प्रावधानों का किया ज़िक्र

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत– यहां ताड़ीखेत विकासखण्ड अंतर्गत इंटर कालेज ख़िरखेत में एक दिवसीय बहुउद्देशीय विधिक जागरूकता शिविर आज संपन्न हुआ। उत्तराखंड राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण नैनीताल के तत्वाधान में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अल्मोड़ा की ओर से आयोजित शिविर का शुभारंभ उच्च न्यायालय नैनीताल के वरिष्ठ न्यायधीश न्यायमूर्ति मनोज तिवारी ने दीप प्रज्वलित कर किया ।

इस अवसर पर जवाहर नवोदय विद्यालय ताड़ीखेत के बच्चों ने रंगारंग कार्यक्रम पेश किए।शिविर में न्यायमूर्ति मनोज तिवारी ने राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण तथा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के बारे में लोगों को जानकारी प्रदान दी। उन्होंने विभिन्न संवैधानिक अनुच्छेदों का जिक्र करते हुए भारतीय न्याय व्यवस्था में गरीबों, वंचितों एवं जरूरतमंदों के लिए किए गए विभिन्न प्रावधानों पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि विधिक सहायता का विषय जनसामान्य के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि विधिक सेवा प्राधिकरण के माध्यम से लोगों को कानूनी सलाह दी जाती है। उन्होंने कहा कि विधिक सेवा प्राधिकरण का अधिक से अधिक लाभ उठाएं।
इस शिविर में जिला प्रशासन के माध्यम से विभिन्न विभागों के 40 विभागीय स्टॉल लगाए गए जिसके माध्यम से लोगों को विभिन्न सरकारी योजनाओं से लाभान्वित किया गया साथ ही विभिन्न योजनाओं की जानकारी भी लोगों को प्रदान की गई। कृषि विभाग के माध्यम से 2 लाभार्थियों को 80 प्रतिशत अनुदान पर फार्म मशीनरी उपलब्ध कराई गई।
इस शिविर में हंस फाउंडेशन के माध्यम से दिव्यांगजनों को 100 सहायक उपकरण वितरित किए गए साथ ही बाबा हैड़ाखान चेरिटेबल रिसर्च सेंटर के माध्यम से निशुल्क आंखों की जांच भी की गई, जिसके माध्यम से लोगों ने लाभ उठाया।
इस दौरान जिला जज कौशल किशोर शुक्ला, जिलाधिकारी विनीत तोमर, सचिव डीएलएसए शचि शर्मा, संयुक्त मजिस्ट्रेट जय किशन, न्यायिक अधिकारीगण समेत बार एसोसिएशन के अध्यक्ष विजय प्रकाश पाण्डेय , वरिष्ठ अधिवक्ता राजेश रौतेला,हरीश मनराल , राजेन्द्र जसवाल, ललित आर्या, सहित अधिवक्ता एवं राजनीतिक दलों के कार्यकर्ता मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  बीर शिवा स्कूल चौखुटिया में पुलिस ने विद्यार्थियों को किया साइबर क्राइम के प्रति जागरूक