रानीबाग से भीमताल के बीच सड़क किनारे की दुकानों और मकानों के तोड़े जाने के डर के बीच दुकानदारों और जनप्रतिनिधियों का धरना-प्रदर्शन

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी– रानीबाग से भीमताल और नैनीताल रोड पर सड़क के किनारे बने 250 से अधिक मकान और दुकानों को पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा चिन्हित किया गया है और उनको नोटिस भी भेजा गया है। नैनीताल हाईकोर्ट के निर्देश पर सड़क किनारे से अतिक्रमण को तोड़ने के निर्देश दिए गए हैं। जिसके इसके बाद वहां व्यवसाय कर रहे सैकड़ो लोगों को उजाड़ने का डर सता रहा है लिहाजा अब सरकार से उन्हें न उजाड़े जाने की मांग की जा रही है।

यह भी पढ़ें 👉  चुनाव ड्यूटी से लौट रहा टीचर सड़क हादसे का शिकार, अज्ञात वाहन की टक्कर से मौत

ऐसे में आज भीमताल क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों ने हल्द्वानी के बुध पार्क में जिला प्रशासन और पीडब्ल्यूडी विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए उत्पीड़न का आरोप लगाया गया है। जन प्रतिनिधि हरीश पनेरु सहित क्षेत्र के दुकानदारों ने कहा कि वह 50 साल से अधिक समय से वन पंचायत की भूमि पर अपना रोजगार कर रहे हैं, साथ ही उनके मकान भी हैं।अब पीडब्लूडी गलत सीमांकन कर रहा है और जिला प्रशासन इस पर कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। ऐसे में क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों और दुकानदारों ने राज्य सरकार से अपील करते हुए कहा कि सरकार इस पर हस्तक्षेप करें और उनको न्याय दिलाने का काम करें, ताकि सबकी रोजी-रोटी बच सके, क्योंकि सरकार पलायन रोकने के लिए काम कर रही है, ऐसे में उनका रोजगार नहीं चलेगा तो उनको मजबूरन पलायन करना पड़ेगा।