रानीखेत में श्री कृष्ण -राधा की झांकी शोभायात्रा के साथ श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव का समापन, बारिश के बीच एकल झांकी निकाली गई

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत: नगर में श्रीकृष्ण -राधा की झांकी की शोभायात्रा निकलने के साथ ही तीन दिवसीय श्रीकृष्ण जन्माष्टमी जन्माष्टमी महोत्सव का समापन हो गया।

शनिवार से लगातार हो रही बारिश के चलते आज सुबह से ही श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव से संबद्ध झांकी निर्माण में जुटी संस्थाएं आज सुबह से ही पशोपेश में थी कि आखिर भारी वर्षा के बीच झांकियों की शोभायात्रा कैसे‌ निकाली जाए? क्योंकि शोभायात्रा का दिन आज‌ रविवार ही तय किया गया था। बाद में शिव मंदिर धर्मशाला समिति और झांकी निर्माण में जुटी संस्थाओं के मध्य सहमति बनी कि शिव मंदिर एवं धर्मशाला समिति की ओर से केवल एक झांकी बनाकर नगर में प्रतीकात्मक शोभायात्रा निकाली जाए।

यह भी पढ़ें 👉  राजकीय इंटर कॉलेज सिलोर महादेव में विद्यालय प्रबंधन समिति के‌ राजेन्द्र सिंह नेगी और पीटीए के दिनेश चंद्र आर्य अध्यक्ष निर्वाचित

दोपहर समय समिति की ओर से बारिश के बीच श्रीकृष्ण -राधा की झांकी शोभायात्रा के सुभाष चौक, गांधी चौक सदर बाजार,रोडवेज स्टेशन,सोमनाथ ग्राउंड ,जरूरी बाजार,होते हुए निकाली गई जिसका समापन शिव मंदिर में हुआ। शोभायात्रा के साथ ही श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव का समापन हुआ।

यह भी पढ़ें 👉  भिकियासैण उप जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन,एक सप्ताह में पेयजलापूर्ति सुचारू न होने पर तहसील मुख्यालय पर धरना-प्रदर्शन की‌ चेतावनी

शोभायात्रा में जगदीश अग्रवाल ,अगस्त लाल शाह, कैलाश पांडे, रमेश अधिकारी ,बालम सिंह, परमवीर सिंह, अभिषेक कांडपाल, गौरव भट्ट सम्मिलित हुए। शिव मंदिर समिति के अनुसार झांकी प्रतियोगिता के परिणाम जल्द ही घोषित किए जाएंगे।

यह भी पढ़ें 👉  पूर्व मंत्री गोविंद सिंह माहरा की‌103वीं जयंती पर‌ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने चिकित्सालय में मरीजों को फल‌ वितरण किया