एस आई टी ने पेपर लीक मामले‌ में आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए अभियान तेज किया, एक टीम यूपी रवाना तो एक‌ हरिद्वार के आसपास दे रही है दबिश

ख़बर शेयर करें -

देहरादून:एसआईटी ने पटवारी, एई और जेई की लिखित भर्ती परीक्षा के प्रश्नपत्र लीक प्रकरण में फरार आरोपियों की धरपकड़ तेज कर दी है। पूर्व भाजपा मंडल अध्यक्ष समेत तीन आरोपियों पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया जा चुका है।अब आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए एक टीम उप्र रवाना हो गई है।

यह भी पढ़ें 👉  कैंट बोर्ड के दो चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी रिश्वत लेते पकड़े गए, CBI ने उन्हें रंगे हाथ किया गिरफ्तार

बता दें कि एई-जेई और पटवारी पेपर लीक मामले में फरार पूर्व भाजपा मंडल अध्यक्ष मंगलौर ग्रामीण संजीव धारीवाल निवासी मोहम्मदपुर जट मंगलौर हाथ नहीं लग पाया है। शुक्रवार देर रात एसएसपी अजय सिंह ने तीनों आरोपियों की गिरफ्तारी पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित कर दिया था अब एसआईटी ने तलाश तेज कर दी।

यह भी पढ़ें 👉  पी जी कॉलेज रानीखेत में 12 दिवसीय ई.डी.पी. कैंप के द्वितीय दिन विशेषज्ञों ने दिए विस्तृत व्याख्यान

अनुराग पांडे की गिरफ्तारी के लिए एक टीम बलिया उत्तर प्रदेश भेजी गई है। अलग-अलग टीमें भाजपा नेता संजय धारीवाल और डेविड की तलाश में दबिश दे रही है। आरोपियों के कई लोगों से कनेक्शन निकलने की बात भी सामने आई हैं। एसआईटी उनसे भी पूछताछ करने की तैयारी कर रही है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय सिंह ने बताया कि जांच चल रही है। पेपर लीक के सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।