सुभाष विचार मंच ने शहादत दिवस पर शहीद भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव का भावपूर्ण स्मरण किया

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत -सुभाष विचार मंच द्वारा आज सुभाष चौक रानीखेत में शहादत दिवस मनाया गया। इस अवसर पर शहीद‌ भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु का‌ भावपूर्ण स्मरण किया गया।

सुभाष विचार मंच के संयोजक मोहन नेगी ने कहा कि आज के दिन ही सरदार भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव को अंग्रेजों ने फांसी पर लटका दिया था । उन्होंने कहा कि देश की आजादी के लिए तीनों क्रांतिकारियों ने अपने प्राणों की आहुति देकर देश के अंदर लोगों में आजादी की ज्वाला प्रज्वलित कर दी थी। उन्होंने 18- 20 वर्ष की उम्र में आजादी के लिए असेंबली में बम फेंका, जिससे अंग्रेजों ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया । 23 मार्च 1931 को तीनों क्रांतिकारियों को फांसी के फंदे पर लटका दिया गया था, इसलिए आज का दिन उनकी याद में शहादत दिवस के रूप में मनाया जाता है। शहादत दिवस के कार्यक्रम में मोहन नेगी, धर्मेंद्र अधिकारी, शकील खान, हरीश हरबोला, शंकर दत्त बुधोडी़, धन सिंह बिष्ट सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें 👉  प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल‌ की जिला इकाई की बैठक में उठी व्यापारिक व क्षेत्रीय समस्याएं, व्यापारियों की एकजुटता पर बल