रानीखेत पीजी कालेज में रंगारंग कार्यक्रम के साथ मनायी गई आजादी की ७५वीं वर्षगांठ, प्रभातफेरी भी निकाली

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत: ‌स्व० श्री जयदत्त वैला स्वतन्त्रता संग्राम सैनानी राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, रानीखेत में आजादी के अमृत महोत्सव की 75 वीं वर्षगाँठ के अवसर पर महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो० पुष्पेश पाण्डे द्वारा महाविद्यालय प्रांगण में ध्वजारोहण किया गया तथा उच्च शिक्षा निदेशक, उत्तराखण्ड द्वारा दिए गए सन्देश को प्रांगण में उपस्थित सभी जनों के सम्मुख पढ़ा तथा सभी लोगों को 76 वें स्वतन्त्रता दिवस की शुभकामनाऐं एवं बधाईयाँ दी ।

इस अवसर पर छात्र छात्राओं, प्राध्यापकों एवं शिक्षणेतर कर्मचारियों द्वारा प्रातः वेला में प्रभात फेरी की गयी जो कि महाविद्यालय प्रांगण से आरम्भ कर चिलियानौला बाजार से होकर पुनः महाविद्यालय के प्रांगण में पहुँच कर पूर्ण की गयी । इसमें सभी प्रतिभागियों ने पूर्ण मनोयोग एवं उमंग के साथ देशभक्ति गीत, नारों द्वारा आम जनमानस में भी उमंग की लहर प्रस्फुटित की । तत्पश्चात् महाविद्यालय सभागार में आजादी के अमृत महोत्सव के सन्दर्भ में विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए गये, जिसमें डॉo भुवन तिवारी द्वारा मञ्चसंचालन करते हुए ध्वजारोहण एवं ध्वज फहराने के सन्दर्भ में जानकारी प्रदान की |

यह भी पढ़ें 👉  रानीखेत में अंकिता हत्या कांड को लेकर कांग्रेस में जबरदस्त आक्रोश,विरोध प्रदर्शन‌ कर फूंका उत्तराखंड सरकार का पुतला

कार्यक्रम में NCC के छात्र छात्राओं द्वारा देशभक्ति कविता, गीतों द्वारा सभागार में उपस्थित सभी लोगों को देशप्रेम की भावनाओं से ओत प्रोत कर दिया । इसी क्रम में बी.एड विभाग के छात्र छात्राओं द्वारा देशभक्ति से युक्त रंगा रंग कार्यक्रम नृत्य, स्वतन्त्रता संग्राम से सम्बन्धित कुली बेगार प्रथा के विरुद्ध हुए आन्दोलन का सजीव नाटक के द्वारा प्रस्तुति दी गयी जिसका सभागार में उपस्थित सभी दर्शकों ने तालियों की गड़गड़ाहट से अभिनय कर रहे सभी पात्रों का उत्साहवर्धन किया । इतिहास विभाग के प्राध्यापक डॉ॰ पंकज प्रियदर्शी ने भारत के राष्ट्रगान की धुन के निर्माण कर्ता कैप्टन राम सिंह ठाकुर के विषय मे जानकारी प्रदान की ।
इस अवसर पर महाविद्यालय मीडिया प्रभारी डॉ० महिराज मेहरा तथा महाविद्यालय के डॉo प्रसून जोशी, डॉo दीपा पाण्डे, डॉo रश्मि रौतेला, डॉo जया नैथानी, डॉo भारती बहुगुणा आदि समस्त प्राध्यापक एवं कर्मचारिगण उपस्थित रहे ।

यह भी पढ़ें 👉  रानीखेत में पी जी कालेज के प्राध्यापकों की मदद से वन विभाग ने अत्यंत दुर्लभ प्रजाति के उल्लू को रेस्क्यू किया

Leave a Reply

Your email address will not be published.