महिला‌ द्वारा विधायक पर जमीन कब्जाने के आरोप‌ के बाद मामले ने पकड़ा तूल, पीड़ित महिला को न्याय दिलाने के‌ लिए कांग्रेस ने राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत – बेतालघाट विकास खंड अंतर्गत ग्रामसभा च्यूनी निवासी नंदनी गोस्वामी पुत्री श्री गोविन्द गिरी द्वारा रानीखेत विधायक प्रमोद नैनवाल और उनके भाई सतीश नैनवाल पर जबरन जमीन कब्ज़ाने का आरोप लगाने के बाद मामले ने‌ तूल पकड़ने के साथ‌ ही राजनीतिक रंग लेना‌ शुरू कर दिया है। कांग्रेस ने आज इस मामले को लेकर राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजा है।

यहां संयुक्त मजिस्ट्रेट के माध्यम से राष्ट्रपति को प्रेषित ज्ञापन में कहा गया है कि च्यूनी गांव निवासी नंदनी गोस्वामी की ज़मीन विधायक प्रमोद नैनवाल व उनके भाई सतीश नैनवाल द्वारा डरा-धमका व जान से मारने की धमकी देकर जबरन कब्ज़ाई गयी है। जिसकी शिकायत में पीड़ित परिवार द्वारा न्याय के हर उस रास्ते को अपनाया गया है, जिससे उनको न्याय की उम्मीद थी, बड़े अफसोस के साथ बताना पड़ रहा है कि पीड़ित परिवार को आज तक कहीं से भी न्याय नहीं मिल पाया है। कहा गया है कि रानीखेत विधायक जनप्रतिनिधि के सारे मूल्यों को ताक पर रखते हुए आये दिन अनैतिक काम कर रहे हैं। पहले भी इनके ऊपर कईं मुकदमें दर्ज हुए हैं। विधायक की इस रवैए से रानीखेत विधानसभा का नाम भी पूरे प्रदेश में खराब हो रहा है। विधायक के इन कुकृत्यों से आहत होकर रानीखेत विधानसभा की जनता अपने को ठगा सा महसूस कर रही है।
ज्ञापन में कहा गया है कि‌ विधायक ही विधानसभा में नियम-कानून बनाते हैं और समाज को सही दिशा की ओर चलने के लिए प्रेरित करते हैं। वहीं दूसरी ओर रानीखेत विधायक प्रमोद नैनवाल अपने भाई व गुर्गों के साथ मिलकर रानीखेत विधानसभा व अन्य विधानसभाओं का सौहार्दपूर्ण माहौल को खराब करने पर उतारु हैं।
अतः रानीखेत जिला/ब्लाॅक/नगर कांग्रेस कमेटी का आपसे अनुरोध है कि विधायक व उनके ‌लोगों का नाम उद्यान घोटाले की सी0बी0आई0 जांच, सरकारी मदिरा दुकानों में मारपीट, वसूली व तोड़फोड़ करने, रू0 30 लाख में मंत्री पद बनाये जाने का वायरल आडियो, जनता द्वारा चुने हुए पंचायती प्रतिनिधियों के साथ आये दिन मारपीट व गरीब परिवारों की निजी जमीनों को जबरन हड़पने व सरकारी वन विभाग की जमीनों को कब्ज़ाने आदि मामलों में आने पर रानीखेत विधायक प्रमोद नैनवाल की विधायकी तत्काल प्रभाव से समाप्त कर न्यायोचित कार्रवाई की जाय व विधायक के भाई सतीश नैनवाल व इनके लोगों पर भी न्यायोचित कार्रवाई कर रानीखेत विधानसभा के सौहार्दपूर्ण वातावरण को पुनः स्थापित करने की रानीखेत विधानसभा के वासियों पर महति कृपा करें।

यह भी पढ़ें 👉  रानीखेत में केआरसी के सौजन्य से प्रतियोगी परीक्षाओं की काउंसलिंग के लिए हुआ कार्यक्रम , संयुक्त मजिस्ट्रेट ने दी विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी जानकारियां

ज्ञापन देने वालों में नगर उपाध्यक्ष कुलदीप कुमार, महिला नगर अध्यक्ष नेहा माहरा, ब्लॉक अध्यक्ष गोपाल सिंह देव, व्यापार मंडल उपसचिव विनीत चौरसिया, पंकज गुरुरानी, दीप उपाध्याय आदि लोग उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें 👉  रानीखेत में केआरसी के सौजन्य से प्रतियोगी परीक्षाओं की काउंसलिंग के लिए हुआ कार्यक्रम , संयुक्त मजिस्ट्रेट ने दी विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी जानकारियां

कुलदीप कुमार, कार्डिनेटर कांग्रेस कमेटी