रानीखेत में नंदा देवी महोत्सव के कार्यक्रम 11सितंबर कदली वृक्षों के आमंत्रण के साथ होंगे शुरू

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत:श्री नंदा देवी महोत्सव के 131 वें आयोजन को लेकर यहां नंदा देवी परिसर में समिति की बैठक का आयोजन किया गया जिसमें सर्व सम्मत निर्णय लिया गया कि 11 सितंबर पंचमी के दिन परम्परानुसार कदली वृक्षों को आमंत्रित किया जाएगा।कदली वृक्ष पूर्व वर्षों की भांति श्री विमल भट्ट के निवास परिसर माधव कुंज राय इस्टेट से पारम्परिक ढंग से लाया जाएगा। कदली वृक्ष यात्रा का समापन नगर परिक्रमा के बाद स्थापना स्थल पर किया जाएगा।
बैठक में निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 12 सितंबर से मूर्ति निर्माण आरम्भ किया जाएगा और 14 सितम्बर को ब्रह्म मुहुर्त में शुभ लग्नानुसार धार्मिक कर्मकांडों के साथ मां नंदा-सुनंदा की प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी।अपराह्न 1 बजे मुख्य हवन होगा।15 और 16 सितंबर को परम्परागत धार्मिक कर्मकांड आयोजित किए जाएंगे।17सितंबर को मां नंदा-सुनंदा की शोभा यात्रा निकाली जाएगी जिसका नगर भ्रमण के बाद विसर्जन स्थल पर समापन होगा।
विगत वर्ष की भांति इस वर्ष भी लोक संस्कृति को बढा़वा देने के लिए बच्चों व अन्य आयुवर्ग के लिए आॅनलाइन प्रतियोगिताएं आयोजित की जाएंगी।समस्त कार्यक्रम सरकार व स्थानीय प्रशासन की कोविड गाइड लाइन का पालन करते हुए किए जाएंगे।
बैठक में पूर्व वर्षों में मां नंदा सुनंदा की मूर्तियों के निर्माण में सहयोग करते आए रंगकर्मी स्व.जेपी साह के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए दो मिनट का मौन रखा गया। बैठक की अध्यक्षता समिति अध्यक्ष हरीश लाल साह व संचालन एल एम चंद्रा ने किया।बैठक में भुवन साह,अनिल वर्मा,किरन लाल साह ,मुकेश साह,प्रमोद काडंपाल,मोहन नेगी,संजय पंत ,विमल सती,भुवन सती,पंकज साह (स्टूडियो)विनीत चौरसिया,मोहिल साह,मनोज अग्रवाल,यतीश रौतेला,विनोद प्रसाद,ललित साह ,सोनू सिद्दकी,सुकृत साह,जयंत रौतेला,सौरभ अग्रवाल ,भुवन पपनै,जगदीश आर्य आदि शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *