रानीखेत परिवहन डिपो बमुश्किल रुका ही था कि अब रानीखेत से खाद्यान्न गोदाम शिफ्ट करने की तैयारी,कांग्रेस उतरी विरोध में

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत: रानीखेत परिवहन डिपो बमुश्किल रामनगर डिपो में में एकीकृत होने से रुका ही था कि यहां से अब सरकारी खाद्यान्न गोदाम द्वाराहाट विकासखंड के ग्राम डडगल्या पो.मल्ली रियूनी शिफ्ट करने की कार्यवाही गतिमान है इसके लिए भूमि भी चयनित हो चुकी है। इस कार्यवाही की भनक लगते ही कांग्रेस विरोध में आ खड़ी हुई है।आज कांग्रेस जनों ने राज्यपाल के नाम ज्ञापन देकर खाद्यान्न गोदाम को रानीखेत-ताडी़खेत में बनाए रखने की मांग की है।

यह भी पढ़ें 👉  रानीखेत किताब कौतिक में साहित्य व कला जगत की नामचीन हस्तियों ने शामिल होने की हामी भरी, तैयारियों पर चर्चा को लेकर हुई बैठक

ज्ञात हो कि वर्षों से खाद्यान्न गोदाम यहां मालरोड स्थित जिला पंचायत के भवन में चल रहा है।इस बीच जिला पंचायत सदस्य शोभा रौतेला को जिलाधिकारी के पत्र के जरिए पता चला कि प्रशासन की सरकारी खाद्यान्न गोदाम को डडगल्या में स्थापित करने की मंशा है इसके लिए वहां भूमि भी चयनित की जा चुकी है। इस सूचना के बाद कांग्रेस जन विरोध में उतर आए हैं।कांग्रेस जनों ने यहां तहसीलदार के माध्यम से आज राज्यपाल को ज्ञापन भेज कर खाद्यान्न गोदाम को अन्यत्र शिफ्ट करने का विरोध किया है।ज्ञापन में कहा गया है कि खाद्यान्न गोदाम को रानीखेत के निकट ही शिफ्ट किया जाए अन्यथा आम जन संगठनों को साथ लेकर कांग्रेस जन आंदोलन, अनशन करने पर बाध्य होगी।

यह भी पढ़ें 👉  रानीखेत किताब कौतिक में साहित्य व कला जगत की नामचीन हस्तियों ने शामिल होने की हामी भरी, तैयारियों पर चर्चा को लेकर हुई बैठक

ज्ञापन देने वालों में ब्लॉक अध्यक्ष गोपाल देव, ज़िला पंचायत प्रतिनिधि हेमंत रौतेला, विश्व विजय सिंह माहरा, पी०सी०सी० सदस्य कैलाश पांडेय, नगर उपाध्यक्ष कुलदीप कुमार, दीप उपाध्याय, विजय तिवारी, बिशन टनवाल, रक़ीब कुरैशी, जतिन जयाल, मीडिया प्रभारी सोनू सिद्दकी आदि लोग उपस्थित रहे।