छावनी परिषद से आज़ादी का संघर्ष 302दिन से जारी, चुनाव आचार संहिता से पहले नगर पालिका में विलय नहीं तो लोस चुनाव बहिष्कार

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत-रानीखेत विकास संघर्ष समिति के बैनर तले यहां नगर पालिका परिषद में छावनी परिषद के नागरिक क्षेत्र को शामिल करने की मांग पर धरना-प्रदर्शन आज 302वें दिन भी जारी रहा।

यहां गांधी चौक में छावनी परिषद से मुक्ति पाने के लिए नागरिकों का धरना-प्रदर्शन बदस्तूर जारी है। धरना स्थल पर हुई बैठक में नागरिकों ने नागरिक क्षेत्र को अतिशीघ्र रानीखेत-चिलियानौला नगर पालिका परिषद में शामिल करने की मांग करते हुए चेतावनी दी कि अगर लोक सभा चुनाव आचार संहिता से पहले छावनी परिषद नागरिक क्षेत्र का नगर पालिका में विलय नहीं किया गया तो चुनाव का पूर्ण रूप से बहिष्कार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  केआरसी सेंटर आफिस में 21जून को आयोजित होगा भूतपूर्व सैनिक मेला, सभी भूतपूर्व सैनिकों से मेले में शिरकत कर अपनी समस्याएं बताने की अपील

धरना -प्रदर्शन में कैलाश चंद्र पांडे,पूरन चंद्र पांडे,खजान पांडे,खजान जोशी, डी सी साह, हरीश अग्रवाल, राजेन्द्र अग्रवाल, दीपक गर्ग, चंद्र शेखर गुरूरानी,दीपक साह, उमेश भट्ट, एल डी पांडे, अशोक पाण्डे, हरीश मैनाली, प्रमोद कांडपाल, रघुवर दत्त शर्मा आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  केआरसी सेंटर आफिस में 21जून को आयोजित होगा भूतपूर्व सैनिक मेला, सभी भूतपूर्व सैनिकों से मेले में शिरकत कर अपनी समस्याएं बताने की अपील