कहां गिरा वृद्धा के ऊपर विशाल पेड़,हुई मौत

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत। ताडी़खेत विकास खंड अंतर्गत चमड़खान स्थित प्रसिद्ध ग्वेल देवता मंदिर के समीप एक बुजुर्ग महिला के ऊपर विशाल पेड़ गिरने से उनकी दर्दनाक मौत हो गई। बताया जा रहा रहा है कि बुजुर्ग् महिला समीपस्थ गांव पस्तौडा़ की रहने वाली थी जो अपनी बहू और पोती के साथ चमड़खान के ग्वेल देवता मंदिर में पूजा करने के लिए आई थी। मंदिर में दर्शन करने के बाद लौटते वक्त यह घटना हुई।

यह भी पढ़ें 👉  आर्मी पब्लिक स्कूल रानीखेत के विद्यार्थियों ने आजादी की ७५वीं वर्षगांठ पर नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति से आजादी के नायकों का कराया स्मरण

दुर्घटना में मृतका की बहू व पोती की जान बाल-बाल बच गई। राजस्व पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए रानीखेत भेजा।
ताड़ीखेत ब्लॉक के पस्तौड़ावार निवासी राधा देवी (84) पत्नी स्व. शेर सिंह अपनी बहू और पोती के साथ बुधवार को पूजा-पाठ के लिए चमड़खान के गोलू देवता मंदिर गईं थी। मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद दुपहर करीब 12 तीनों वापस गांव लौट रहे थे। बहू और पोती मंदिर के पास ही स्थित एक दुकान में कुछ सामान लेने के लिए रुके। राधा देवी दुकान के बाहर सीढ़ियों में बैठकर उनका इंतजार कर रही थी। इसी दौरान दुकान के पास स्थित चीड़ का एक विशाल पेड़ अचानक जड़ से उखड़कर गिर गया, सीढ़ियों पर बैठी राधा देवी के पेड़ के चपेट में आने से उनकी मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। वृद्धा के ऊपर पेड़ गिरने से अफरा-तफरी मच गई। आस-पास के दुकानदार घटना स्थल पर पहुंचे। लेकिन राधा देवी दम तोड़ चुकी थी। प्रधान संगठन ताड़ीखेत की अध्यक्ष प्रमिला देवी भी मौके पहुंची। सूचना के बाद राजस्व उपनिरीक्षक प्रदीप बिजल्वाण के नेतृत्व में राजस्व पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। पंचनामा भरने की कार्रवाई के बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए राजकीय चिकित्सालय रानीखेत भेजा। ब्लॉक प्रमुख हीरा रावत ने हादसे पर दु:ख जताते हुए मृतका के गरीब परिवार को उचित मुआवजा दिए जाने की मांग उठाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.