आंदोलनकारियों ने कहां किया खुद पर डीजल डालकर आत्मदाह का प्रयास

ख़बर शेयर करें -

चमोली:- ऊर्जा कम्पनी द्वारा ग्रामीणों के साथ हुए समझोते पर अमल न करने से आक्रोशित हाट गांव के ग्रामीणों के आंदोलन में उस वक्त हड़कम्प मच गया जब नवयुवक संघ अध्यक्ष समेत पांच आंदोलन कारियों ने आवेश में आकर अपने ऊपर ज्वलनशील तरल डीजल डालकर आत्मदाह का प्रयास किया।
ज्येष्ठ प्रमुख पंकज हटवाल के अनुसार लंबे समय से टीएचडीसी एचसीसी विद्युत परियोजना निर्माण से प्रभावित ग्रामीणों ने अपनी मांगों को लेकर कई बार वार्ता की और प्रशासन के सामने भी कंपनी द्वारा की जा रही वादाखिलाफी की शिकायत की थी लेकिन लगातार ग्रामीणों की अनदेखी की जा रही है।

यह भी पढ़ें 👉  कांग्रेस की 'भारत जोड़ो तिरंगा यात्रा' देश भक्ति गीतों और स्वतंत्रता सेनानियों की गाथा‌ लेकर‌ पहुंची गांव -गांव

इसके चलते आक्रोशित ग्रामीण अब आंदोलन को बाध्य हुए हैं क्योंकि अब शासन -प्रशासन और कंपनी प्रबंधन की तरफ से ग्रामीणों के साथ उपेक्षात्मक व्यवहार किया जा रहा है। उनके साथ जो समझौते कंपनी निर्माण के समय हुए थे उन सब को दरकिनार किया जा रहा है इसी कारण आज ग्रामीणों में से 5 लोगों को आत्मदाह जैेसा कदम उठाने पर बाध्य होना पडा़।

यह भी पढ़ें 👉  आर्मी पब्लिक स्कूल रानीखेत के विद्यार्थियों ने आजादी की ७५वीं वर्षगांठ पर नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति से आजादी के नायकों का कराया स्मरण

वहीं ग्राम प्रधान राजेंद्र हटवाल ने कहा कि परियोजना विकास के लिए वह हमेशा तत्पर रहे हैं और अपनी काश्तकारी भूमि भी कंपनी के समझौते के अनुसार दी थी लेकिन विद्युत परियोजना लगातार निर्माण कर रही है लेकिन जिन समझौतों पर कंपनी प्रबंधन से अनुबंध हुआ था उस पर आज कंपनी प्रबंधन किनारा कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.