गगास नदी को बचाने के लिए महिलाएं आईं आगे,की वृहद वृक्षारोपण की शुरूआत

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत:- गगास नदी को सदानीरा बनाने के संकल्प के साथ अब क्षेत्र की महिलाओं आगे आईं हैं।जिला पंचायत अध्यक्ष उमा बिष्ट के नेतृत्व में क्षेत्र की महिलाओं ने गगास नदी के किनारे वृहद पौधरोपण अभियान की शुरूआत की। द्वाराहाट के पूर्व विधायक मदन बिष्ट ने इस कार्य में हर संभव सहयोग का आश्वासन दिया। उन्होंने अन्य संगठनों से भी इस हेतु आगे आने की अपील की।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तरकाशी: एवलांच हादसे में 26 शव बरामद,तीन की खोजबीन जारी

गौरतलब है कि गगास नदी से एक दर्जन से अधिक पेयजल योजनाएं संचालित हैं। द्वाराहाट क्षेत्र के अलावा रानीखेत क्षेत्र के लोग भी यहीं का पानी पीते हैं। लेकिन जल स्रोत सूखने के कारण नदी का पानी भी कम हो रहा है। गर्मियों में भारी दिक्कतें रहती हैं। जिला पंचायत अध्यक्ष उमा बिष्ट ने इस जीवनदायनी नदी को बचाने का संकल्प जताया है। उन्होंने क्षेत्र की महिलाओं को एकजुट कर नदी के किनारे वृहद पौधरोपण करने का निर्णय लिया। पूर्व विधायक मदन बिष्ट ने कहा कि इसके लिए व्यापक स्तर पर अभियान की शुरूआत कर दी गई है। उन्होंने क्षेत्रीय समितियों, संगठनों, नदी के संरक्षण में कार्य कर रहे नौला फाउंडेशन, जनविकास समिति सहित तमाम संगठनों के साथ मिलकर काम करने की बात कही। प्रथम चरण में नदी किनारे खरेटी से लेकर कनलगांव, रवाड़ी क्षेत्र तक पौधरोपण अभियान चलेगा। यहां बांज,उतीस, क्वैराल के पौधों का रोपण किया जा रहा है। यहां बैनाली प्रधान धन सिंह, गोपाल सिंह, रमेश बोरा, महिला मंगल दलों से जुड़ी महिलाओं, रावलसेरा, सकुनी, ईडा, कामा, कधमोली, नायल, बिंता के जनप्रतिनिधि मौजूद रहे। दिवाकर कार्की, अर्जुन बिष्ट, जगत रौतेला, प्रमोद जोशी, कुंवर सिंह, हेम जोशी, शंकर भंडारी आदि ने भी सहयोग किया।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.