11 वर्ष के लंबे इंतजार के बाद राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय रानीखेत को नैक का बी प्लस ग्रेड मिला

ख़बर शेयर करें -


रानीखेत:स्व जय दत्त वैला राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय रानीखेत को 11 वर्ष के लंबे इंतजार के बाद नैक से 2.64 पॉइंट के साथ बी प्लस ग्रेडिंग मिली है।

नैक की प्रक्रिया प्रत्येक 5 वर्ष के अंतराल में होती है, जो कि इस महाविद्यालय में लंबे समय से नहीं हुई थी। कॉलेज के प्राचार्य प्रोफेसर पुष्पेश पांडे ने इस प्रक्रिया को नए सिरे से प्रारंभ किया। राजकीय महाविद्यालय रानीखेत (अल्मोड़ा) में राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद नैक की टीम ने 10 एवं 11 जुलाई 2023 को निरीक्षण किया। टीम में चैयरपर्सन प्रोफ़ेसर सुब्रह्मण्यम यदपतिथया ( कर्नाटक) टीम संयोजक प्रोफेसर जॉइजित घोष (पश्चिम बंगाल ) एवं सदस्य के रूप में प्रोफेसर विजय ठाकरे (महाराष्ट्र) उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें 👉  इस बार उत्तराखंड में 2019 की‌ तुलना में कम हुआ मतदान,पूरे प्रदेश में 53.56मतदान, उदासीन दिखा मतदाता

एसएसआर रिपोर्ट के 70% एवं निरीक्षण के 30% के आधार पर रिपोर्ट तैयार की गई। बुधवार 19 जुलाई 2023 को नैक ने राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय रानीखेत को बी प्लस देने की घोषणा की। ग्रेड मिलने से आइक्यूएसी नैक समन्वयक डॉ प्रसून कुमार जोशी एवं महाविद्यालय परिवार के समस्त प्राध्यापक एवं कर्मचारियों ने प्राचार्य को हार्दिक शुभकामनाएं दी। प्राचार्य ने सभी का आभार व्यक्त किया।

यह भी पढ़ें 👉  भतरौंजखान- भिकियासैंण मार्ग में दर्दनाक हादसा,बाइक सवार युवक की मौत,एक घायल

नैक प्रक्रिया सफलतापूर्वक संपन्न कराने हेतु प्राचार्य प्रोफ़ेसर पुष्पेश पांडे द्वारा इस दिशा में अथक प्रयास किए गए तथा कई सराहनीय कार्य उनके सकुशल निर्देशन में विगत डेढ़ वर्ष में किए गए। जिसमें महिला छात्रावास का निर्माण, महाविद्यालय चहारदीवारी का निर्माण, विधायक निधि से संपर्क मार्ग का निर्माण, रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम तथा कई अन्य महत्वपूर्ण कार्य महाविद्यालय के हित में किए गए। सभी विभागों द्वारा ने नैक प्रक्रिया को संपन्न कराने हेतु अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया गया।

यह भी पढ़ें 👉  वोट डालने हल्द्वानी जा रहे चिकित्सक की कार अनियंत्रित होकर खाई में गिरी, हुई मौत,

प्राचार्य एवं समस्त महाविद्यालय परिवार द्वारा सभी स्थानीय नागरिकों, अभिभावकों, पुरातन छात्र, महाविद्यालय में अध्ययन अध्ययनरत छात्र-छात्राओं एवं छात्रसंघ पदाधिकारियों का उनके अभूतपूर्व योगदान हेतु आभार व्यक्त किया गया।