जी0 डी0 बिरला विद्यालय रानीखेत में लगी वार्षिक प्रदर्शनी व आठ दिवसीय ’स्वर संगम’ कार्यशाला का हुआ समापन

ख़बर शेयर करें -

रानीखेतःआज रानीखेत स्थित जी0 डी0 बिरला मैमोरियल स्कूल में विगत आठ दिनों से चली आ रही ’स्वर संगम’ कार्यशाला सफलतापूर्वक संपन्न हुई।
इस अवसर पर विद्यालय में समस्त अभिभावक आमंत्रित रहे। प्रधानाचार्य मो0 आसिम अली व उपप्रधानाचार्य श्री अजय बिहारी सेठ की देख रेख में सभी कार्यक्रम सम्पन्न हुए।
जी0डी0 बिरला मैमोरियल स्कूल रानीखेत में आज विभिन्न विषयों की प्रदर्शनी भी लगाई गई पिछले एक सप्ताह से विद्यालय में छात्र विभिन्न कलाओं में प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे थे। साथ ही विभिन्न विभागों द्वारा चार्ट और मॉडल के माध्यम से विषय की बारीकियों को भी सीख रहे थे।
स्वर संगम कार्यशाला के तहत तीरंदाजी, पाक-कला, ड्रामा, नृत्य, संगीत, सुलेख आदि कलाओं में छात्रों का आकर्षण रहा। तीरंदाजी में कक्षा बारह के कार्तिकेय नेगी ने प्रथम स्थान प्राप्त कर विजेता का खिताब अपने नाम किया।
पाककला कार्यशाला में आज छात्रों के बीच एक प्रतियोगिता कराई गई। इसमें छात्रों ने ओरिया शेक, विद आइसक्रीम, आऊमिन, बर्गर, चीज बॉल, फ्राइड राइस,हनीं चिली पोटेटो, खाठी रॉल व चॉकलेट आदि बनाया। इस प्रतियोगिता में छात्रों के चार समूह थे जिन्होंने दो-दो खाद्य व्यंजन बना कर निर्णायक मंडल को परोसे। श्रीमती सुबुहि अली व विद्यालय शेफ श्री आलोक रंजन बहरा निर्णायक मंडल में शामिल थे। इस प्रतियोगिता में ’’फ्लेम किंग ’’ समूह से सुमित थापा, अर्पित जैन,हर्षवर्धन, यांगबेल, शशांक राजन ने प्रथम स्थान प्राप्त किया।
कलाश्री के मंच पर छात्रों ने नृत्य पेश कर सभी की वाहवाही बटोरी। अंग्रेजी नाटक ’’ अवेंजर्स असेम्बल का सफलतम मंचन हुआ। छात्रों ने वॉकल म्यूजिक में विशेष व मोहक धुनें प्रस्तुत कर सभी को मंत्रमुग्ध किया। यह सभी कार्यक्रम श्रीमती मैत्री की देखरेख में करवाए गए।
विद्यालय में हुई प्रदर्शनी में हिंदी विभाग में कक्षा नौ द्वारा बनाए गए चार्ट की प्रस्तुति को अत्यंत सराहा गया। विभाग ने साहित्य व भाषा दोनो में ही मॉडल प्रस्तुत किए। संस्कृत में वेद-व्यास जी की रचनाओं का संग्रह दिखाया गया। कला विभाग की प्रदर्शनी को खूब सराहा गया विज्ञान विभाग ने रसायनिक प्रयोग, डायनासोर वर्ल्ड , व स्मार्ट सिटी पर आधारित मॉडल बनाए। कम्प्यूटर विभाग द्वारा फ्यूचर कम्प्यूटर्स को प्रदर्शित किया। ’’ नॉन कन्वेंशनल सोर्स ऑफ एनर्जी’’ शीर्षक समाजिक अध्ययन द्वारा दर्शाया गया वाणिज्य विभाग ने ए0 टी0 एम0 मशीन व कारखाने का मॉडल प्रस्तु किया। मैनड्रीन विभाग द्वारा चाइना वॉल प्रस्तुत की गई।
कार्यक्रम का उदघाटन श्रीमती सुबुहि अली के करकमलों द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। विद्यालय प्राचार्य मो0 आसिम अली द्वारा रिबन काटा गया एवं प्रदर्शनी को सभी के लिए खोला गया। आठ दिवसीय ’स्वर संगम’ कार्यशाला के अन्तर्गत उत्कृष्ठ प्रदर्शन करने वाले छात्रों क्रमशः अर्णव चौरसिया, कुणाल जोशी, आयुष असवाल, परमेश्वर गिरि, नमन सक्सेना, अक्षित ठकराल आदि को पुरस्कार प्रदान किए गए।
पार्थ भगत (कक्षा बारह ) ने सभी को धन्यवाद पेश किया। प्रधानाचार्य मो0 आसिम अली ने स्वर संगम कार्यशाला की प्रभारी( incharge) श्रीमती मैत्री को सफलतम् कार्यक्रम हेतु बधाई दी एवं कहा कि वे छात्रों के चहुॅमुखी विकास पर विशेष ध्यान दे रहे हैं, और भविष्य में भी ऐसे कार्यक्रम विद्यालय में निरन्तर जारी रहेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तरकाशी: एवलांच हादसे में 26 शव बरामद,तीन की खोजबीन जारी
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.