राज्य में पुलिस विभाग में 1717 पदों की मंजूरी, शीघ्र जारी होगी विज्ञप्ति

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखण्ड पुलिस में आरक्षी संवर्ग के 1521 एवं उपनिरीक्षक/गुलनायक संवर्ग के 197 पदों पर भर्ती किये जाने हेतु उत्तराखण्ड शासन द्वारा अनुमति प्रदान कर दी गई है। शीघ्र ही इन पदों की विज्ञप्ति जारी होगी।

पुलिस महानिरीक्षक कार्मिक, उत्तराखण्ड पुलिस मुख्यालय, देहरादून के पत्रांक डीजी-7-29-2019 (2) दिनांक 27.09.2021 एवं पत्रांक डीजी-1 201 / 2021 (3). दिनांक 02.12.2021 का संदर्भ ग्रहण करने का कष्ट करें, जिसके द्वारा पुलिस विभाग में आरक्षी एवं उपनिरीक्षक / गुल्मनायक संवर्ग के रिक्त पदों पर भर्ती हेतु उत्तराखण्ड

यह भी पढ़ें 👉  हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा के माध्यम से कांग्रेसजन सामाजिक समरसता का संदेश लेकर निकलेंगे:प्रदीप टम्टा

अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को अधियाचन प्रेषित किया गया है। 2 अतः इस सम्बन्ध में मुझे यह कहने का निदेश हुआ है कि सम्यक् विचारोपरान्त उत्तराखण्ड पुलिस विभाग में आरक्षी संवर्ग के कुल 1521 एवं उपनिरीक्षक / गुल्मनायक के कुल 197 रिक्त पदों पर भर्ती किये जाने की अनुमति प्रदान की जाती है। कृपया तदनुसार अग्रेत्तर आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें।

यह भी पढ़ें 👉  पुलिस और एसओजी की संयुक्त टीम ने नशे के सौदागर को दबोचा,13 लाख की स्मैक बरामद

उत्तराखण्ड पुलिस में आरक्षी संवर्ग के 1521 एवं उपनिरीक्षक/गुलनायक संवर्ग के 197 पदों पर भर्ती किये जाने हेतु उत्तराखण्ड शासन द्वारा अनुमति प्रदान कर दी गई है। शीघ्र ही इन पदों की विज्ञप्ति जारी होगी।

पुलिस महानिरीक्षक कार्मिक, उत्तराखण्ड पुलिस मुख्यालय, देहरादून के पत्रांक डीजी-7-29-2019 (2) दिनांक 27.09.2021 एवं पत्रांक डीजी-1 201 / 2021 (3). दिनांक 02.12.2021 का संदर्भ ग्रहण करने का कष्ट करें, जिसके द्वारा पुलिस विभाग में आरक्षी एवं उपनिरीक्षक / गुल्मनायक संवर्ग के रिक्त पदों पर भर्ती हेतु उत्तराखण्ड

यह भी पढ़ें 👉  रमेश की हत्या का २४घंटे में खुलासा, अवैध संबंध के चलते हुई थी हत्या, पत्नी,प्रेमी और एक अन्य गिरफ्तार

अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को अधियाचन प्रेषित किया गया है। 2 अतः इस सम्बन्ध में मुझे यह कहने का निदेश हुआ है कि सम्यक् विचारोपरान्त उत्तराखण्ड पुलिस विभाग में आरक्षी संवर्ग के कुल 1521 एवं उपनिरीक्षक / गुल्मनायक के कुल 197 रिक्त पदों पर भर्ती किये जाने की अनुमति प्रदान की जाती है। कृपया तदनुसार अग्रेत्तर आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *