बड़ी खबर-लोक सभा चुनाव से ऐन पहले केंद्र सरकार ने उत्तराखंड व झारखंड की एक-एक और यूपी की तीन छावनी परिषदों को स्थानीय निकाय में शामिल किया

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत– केंद्र सरकार द्वारा उ प्र की तीन उत्तराखंड की एक और झारखंड की एक छावनी परिषद के नागरिक क्षेत्र को स्थानीय निकाय में शामिल करने की घोषणा का गजट नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है। लोक सभा चुनाव से ऐन पहले हुई घोषणा से रानीखेत छावनी परिषद में भी उत्सुकता बढ़ गई है।

यह भी पढ़ें 👉  वोट डालने हल्द्वानी जा रहे चिकित्सक की कार अनियंत्रित होकर खाई में गिरी, हुई मौत,

केंद्र सरकार ने छावनी अधिनियम 2006(2006की धारा41)की धारा 4की उपधारा( 1)की प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए पांच छावनी परिषदों को स्थानीय निकाय में शामिल करने के आशय की घोषणा की है। इसका गजट नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है। इनमें उत्तराखंड की क्लेमनटाउन, झारखंड की रामगढ़ और उत्तर प्रदेश की मथुरा, शाहजहांपुर और फतेहपुर छावनी परिषद शामिल हैं। पांच छावनी परिषदों को स्थानीय निकायों में शामिल करने के बाद रानीखेत छावनी परिषद के नागरिकों की उत्सुकता बढ़ गई है। ध्यातव्य है कि रानीखेत में कमोवेश एक साल से स्थानीय निकाय में छावनी के नागरिक क्षेत्र को शामिल करने को लेकर धरना प्रदर्शन चल रहा है। उम्मीद लगाई जा रही है कि लोकसभा सामान्य निर्वाचन की आचार संहिता लागू होने से पहले रानीखेत छावनी परिषद नागरिक क्षेत्र का भी स्थानीय निकाय में विलय हो जाएगा। रानीखेत विकास संघर्ष समिति पहले ही स्थानीय निकाय में विलय न होने पर चुनाव बहिष्कार का ऐलान कर चुकी है।

यह भी पढ़ें 👉  इस बार उत्तराखंड में 2019 की‌ तुलना में कम हुआ मतदान,पूरे प्रदेश में 53.56मतदान, उदासीन दिखा मतदाता