रानीखेत में पेयजल संकट गहराया,48 घंटे में एकबार पेयजलापूर्ति देने के बाद छावनी परिषद ने वाहनों से‌ पेयजल वितरण शुरू किया

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत – गर्मी की तपिश बढ़ने के साथ ही नगर क्षेत्र में इन दिनों पेयजल के लिए हाहाकार मचा है। पिछले कुछ दिनों से छावनी परिषद द्वारा नागरिकों के लिए एक दिन छोड़कर पेयजलापूर्ति की जा रही है वहीं अब टैंकरों के जरिए भी पेयजल वितरण शुरू कर दिया है।

यह भी पढ़ें 👉  केआरसी सेंटर आफिस में 21जून को आयोजित होगा भूतपूर्व सैनिक मेला, सभी भूतपूर्व सैनिकों से मेले में शिरकत कर अपनी समस्याएं बताने की अपील

रानीखेत क्षेत्र में इन दिनों पेयजल की किल्लत बढ़ गई है। बढ़ती गर्मी के साथ ही प्राकृतिक स्रोत सूखने, भू-जल का स्तर‌ गिरने और देवीढूंगा पम्पिंग योजना के पम्प खराब होने से‌ पेयजल संकट गहरा गया है। छावनी परिषद द्वारा एक दिन छोड़कर प्रातः समय‌ करीब चालीस मिनट पेयजलापूर्ति की जा‌ रही है।अब‌ टैंकरों से मुहल्लों में पेयजल वितरण किया जा रहा है। गौरतलब है कि कुछ दिन पूर्व नलकूप का जल‌ टैंकरों से नागरिकों में बंटवाने को‌ लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने संयुक्त मजिस्ट्रेट को ज्ञापन दिया था। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने‌ पेयजल वितरण व्यवस्था के‌ लिए संयुक्त मजिस्ट्रेट , मुख्य अधिशासी अधिकारी छावनी परिषद और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा का धन्यवाद किया है।

यह भी पढ़ें 👉  केआरसी सेंटर आफिस में 21जून को आयोजित होगा भूतपूर्व सैनिक मेला, सभी भूतपूर्व सैनिकों से मेले में शिरकत कर अपनी समस्याएं बताने की अपील