कैंट बोर्ड के ओएस और लिपिक को सीबीआई ने किया गिरफ्तार, नक्शा पास करने के एवज में ले रहे थे 25 हजार रूपए

ख़बर शेयर करें -

भ्रष्टाचार के मामले में कैंट बोर्ड के ओ एस सहित दो कर्मचारियों को सीबीआई की टीम ने रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किया है। मामला देहरादून कैंट बोर्ड का है।

यहां‌ कैंट बोर्ड के‌ बाबू और बड़े बाबू पर 25 हजार रुपये की रिश्वत लेने का आरोप है। बताया जा रहा है कि दोनों कर्मचारियों ने नक्शे के एवज में 25 हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी।

यह भी पढ़ें 👉  अंकिता हत्याकांड को लेकर भिकियासैंण में भी‌ उबाल, युवाओं ने‌ निकाली आक्रोश रैली

जानकारी के अनुसार शिकायतकर्ता से मकान का नक्शा पास करने की एवज में ₹25000 की रिश्वत मांगी गई थी इसी के आधार पर सीबीआई ने कैंट बोर्ड में कार्यरत एलडीसी रमन कुमार अग्रवाल को गिरफ्तार किया. वहीं कैंट कार्यालय अधीक्षक शैलेंद्र कुमार को भी सीबीआई ने हिरासत में लिया है।शिकायत पर टीम गुरुवार को कैंट बोर्ड कार्यालय पहुंची और दस्तावेजों की जांच शुरू की।

यह भी पढ़ें 👉  सेवा पखवाड़ा के तहत भाजपा कार्यकर्ताओं ने अम्बेडकर पार्क में किया छायादार वृक्ष पौधों का रोपण

सीबीआई की टीम के कैंट में पहुंचने से कर्मचारियों और अधिकारियों में हड़कंप मच गया। टीम ने कई घंटे पूछताछ के बाद दोनों कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया। सीबीआई आरोपित लोगों से दस्तावेज कब्जे में लेकर छानबीन में जुट गई है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.