चिलियानौला में पेयजल संकट से जूझ रहे नागरिकों ने जल संस्थान कार्यालय के बाहर दिया धरना

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत: चिलियानौला नगर पालिका क्षेत्र में गहराये पेयजल संकट से आजिज आ चुके नागरिकों ने आज उत्तराखंड जल संस्थान कार्यालय के बाहर‌ धरना और पेयजल संकट से निजात दिलाने की मांग की। धरने‌ में व्यापार मंडल और नगरपालिका नागरिक मंच के सदस्य शामिल रहे।

बता दें कि चिलियानौला क्षेत्र में पेयजल संकट को देखते हुए 2012 में स्वीकृत चिलियानौला तिपौला ग्राम समूह योजना भी लोगों की प्यास नहीं बुझा पा रही है। आए दिन स्थानीय रहवासियों की शिकायत के बाद भी कोई कार्यवाही नहीं हो पा रही है। योजना से नगर पालिका चिलियानौला क्षेत्र के अलावा ताड़ीखेत ब्लॉक की 28 ग्राम सभाएं भी जुड़ी है। बताया गया है कि पर्याप्त पम्पिंग न हो पाने से लोगों को पेयजलापूर्ति नहीं हो पा रही है। विगत वर्ष नवंबर में योजना को जल‌निगम ने जल संस्थान को हस्तगत किया था।जल संस्थान नागरिकों की पेयजल जरूरत को पूरा करने में नाकाम रहा है। जिससे नाराज नागरिकों ने जल संस्थान कार्यालय के बाहर आज धरना प्रदर्शन किया।

धरना प्रदर्शन में व्यापार मंडल अध्यक्ष कमलेश बोरा , नीलेश शर्मा , जवाहर असवाल, कमला बिष्ट , मदन कुवार्बी , देव सिंह मेहरा , नवीन आर्या, हेमा पांडे , शांति जलाल ,नीमा बिष्ट , प्रकाश कुवार्बी , डीएन मठपाल , भुवन पाठक आदि उपस्थित रहे।