सीएम धामी ने बताया अतिवृष्टि तबाही से कितने करोड़ का हुआ नुकसान

ख़बर शेयर करें -

पंतनगर। कुमाऊ के पर्वतीय जिलों में भले ही बारिश का कहर थोड़ा कम हो गया है, लेकिन आपदा के दिये हुए जख्म अभी भी हरे है। सेना के हेलीकाप्टर से आपदाग्रस्त क्षेत्रो का निरीक्षण करके बुधवार की शाम देहरादून जाने के लिए पंतनगर हवाई अड्डे पहुचे मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि राज्य में आपदा से फिहलाल करीब सात हजार करोड़ रुपये का नुकसान का आंकलन लगाया जा रहा है। फंसे पर्यटकों को सुरक्षित निकाला जा रहा है। इसके लिए वायु सेना के तीन हेलीकॉप्टर लागये गए हैं। खटीमा के साथ ही कुमाऊ के आपदा ग्रस्त क्षेत्रों का निरीक्षण करने के बाद सीएम धामी आज बुधवार की शाम पन्तनगर एयरपोर्ट पहुचे। जहाँ पत्रकारो से बातचीत करते हुए उन्होंने बताया कि बारिश से प्रदेश के सभी जनपद प्रभावित हुए है। पहाड़ व मैदान में फसल को काफी नुकसान हुआ है। इसका आंकलन कर नुकसान की भरपाई की जाएगी। प्रदेश के सभी अधिकारियों से फसल नुकसान का आंकलन कराया जा रहा है। सरकार के सभी मंत्री, संगठन के कार्यकर्ता व अधिकारी आपदा से प्रभावितों की मदद के लिए राहत कार्य में जुटे हुए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के इस आपदा से भारी नुकसान हुआ है। उन्होंने बताया कि आपदाग्रस्त क्षेत्रो में एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और वायु सेना की टीम लगातार राहत बचाव का काम कर रही है। खाद्यान वितरण किया जा रहा है। दस हजार खाने का पैकेट वितरित किए गए है। आपदा से सम्पर्क मार्ग, घर बह गए हैं बिजली लाइन, संचार ध्वस्त होने से लोग एक दूसरे से कट गए हैं। हालांकि टीम व्यवस्थाओं को बनाने में जुटी हुई है। तीन मार्ग क्षतिग्रस्त है। वैकल्पिक मार्ग खुले हुए है। उन्होंने बताया कि चार धाम यात्रा शुरू कर दी गयी है। आपदा में जो नुकसान हुआ है, उसका दोबारा पुननिर्माण कर प्रदेश को आगे बढाने का कार्य करेंगे। नुकसान की समीक्षा की जाएगी। इस मौके पर केंद्रीय रक्षा एवं पर्यटन राज्य मंत्री अजय भट्ट, उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत, जिला प्रभारी मंत्री  स्वामी यतीश्वरानंद, किच्छा विधायक राजेश शुक्ला मुख्य रूप से मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.