कारगिल दिवस पर डीएम वंदना ने वीर सपूतों के योगदान को किया याद,वीरांगनाओं का किया सम्मान

ख़बर शेयर करें -

अल्मोड़ा -:कारगिल विजय दिवस की 23वीं वर्षगाँठ शहीद स्मारक छावनी क्षेत्र में आयोजित की गयी। कारगिल शहीदों की स्मृति में शहीद स्मारक छावनी परिषद पर माल्यार्पण, पुष्पांजलि एवं पुष्पचक्र अर्पित किये गये साथ ही 02 मिनट का मौन रखा गया। गैरीसन अल्मोड़ा की सैन्य टुकडी द्वारा शहीदों के सम्मान में सलामी दी गयी। इस शौर्य दिवस के अवसर पर श्रीमती सावित्री देवड़ी पत्नी शहीद हरीश देवड़ी व श्रीमती सरस्वती माया घले पत्नी शहीद हरी बहादुर घले एवं कारगिल युद्व में घायल अ0 कैप्टन जीवन सिंह मेहरा को जिलाधिकारी वन्दना द्वारा शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया।
           इस अवसर पर जिलाधिकारी द्वारा (शौर्य दिवस) पर शहीद स्मारक पर कारगिल शहीदों को पुष्पचक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। उन्होंने भारतीय सेना के अदम्य साहस व शौर्य को नमन करते हुए कहा कि उत्तराखण्ड में सैनिकों की वीरता व बलिदान की लम्बी परम्परा रही है। देश की आजादी से पहले एवं आजादी के बाद उत्तराखंड के वीर सपूतों ने देश की रक्षा के लिए महत्वपूर्ण योगदान रहा है। कारगिल युद्व में देश की सीमाओं की रक्षा के लिए वीर सैनिकों के बलिदान को राष्ट्र हमेशा याद रखेगा।
           इस अवसर पर नगर पालिका अध्यक्ष प्रकाश चन्द जोशी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रदीप कुमार राय, अपर जिलाधिकारी सी0एस0 मर्तोलिया, गैरीसन अल्मोड़ा के कमान अधिकारी कर्नल विनय यादव, जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल (अ0प्रा0) योगेन्द्र कुमार, (अ0प्रा0) बिग्रेडियर के0सी0 जोशी, शौर्य चक्र कर्नल जयंत थापा, ले0कमाण्डर हीरा सिंह सांगा, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 आर0सी0 पंत, एवं जनपद के गौरव सैनानी सैनिक/वीर नारियों आदि ने शहीद स्मारक में पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *