दुःखद हादसा: सिडकुल के सीईटीपी प्लांट में डूबकर तीन कर्मचारियों की मौत

ख़बर शेयर करें -

रुद्रपुर :-यहां सिडकुल की फैक्ट्रियों के प्रदूषित पानी को फिल्टर करने वाले सीईटीपी प्लांट में तीन लोगों की मौत हो गई है। इस खबर से क्षेत्र में हड़कंप मच गया।

बताया जा रहा है कि सीईटीपी प्लांट की मोटर खराब होने के बाद आज जब वहां काम करने वाले कर्मचारी को नीचे मोटर खराब होने पर ठीक करने के लिए प्लांट में भेजा गयावह नीचे उतरते ही प्लांट से निकलने वाली गैस से मूर्छित होकर बेहोश हो गया और डूब गया। उसे डूबता देख सीईटीपी प्लांट के प्लांट हेड भी उसे बचाने नीचे गए तो वह भी मूर्छित होकर डूब गए, जिसके बाद वहां मौजूद एक और कर्मचारी उन्हें निकालने नीचे गया तो वह भी वहीं डूब गया।

यह भी पढ़ें 👉  आर्मी पब्लिक स्कूल रानीखेत के विद्यार्थियों ने आजादी की ७५वीं वर्षगांठ पर नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति से आजादी के नायकों का कराया स्मरण

जिसके बाद चौथे कर्मचारी को रस्सी बांधकर नीचे जैसे ही भेजा तो वह भी नीचे प्लांट की मोटर के पास पहुंचते ही गैस के रिसाव की वजह बेहोश हो गया। बताया जा रहा है कि कमर में रस्सी बधी होने की वजह से लोगों ने उसे ऊपर खींच लिया, जिससे उसकी जान बच गई और उसे अस्पताल भर्ती कराया गया है। बाकी 3 लोगों की डूबकर मौत हो गई है,

यह भी पढ़ें 👉  'आजादी का अमृत महोत्सव'के अंतर्गत छावनी इंटर‌ कालेज के‌ विद्यार्थियों ने नुक्कड़ नाटक के जरिए‌ दिया देश प्रेम का संदेश

फिलहाल एसडीआरएफ और पुलिस प्रशासन जेसीबी लगाकर डूबे हुए तीनों लोगों को निकाल रहे हैं, खबर लिखे जाने तक एसडीआरएफ और पुलिस ने तीनों शव ईटीपी प्लांट से निकाल दिए हैं। फिलहाल अग्रिम कार्रवाई चल रही है।सीईटीपी प्लांट में गड़बड़ी आने के चलते जब हरिपाल (हेल्पर) द्वारा मोटर ठीक करने के लिए टैंक में उतरा तभी वह भी बेहोश हो गया, जिसके बाद हरिपाल को बचाने के लिए प्लांट हेड रमन भी टैंक में उतरा लेकिन वह भी बेहोश होकर पानी के टैंक में गिर गया, जिसके बाद तीसरा कर्मचारी अवधेश भी इन दोनों लोगों को बचाने गया वहीं वह भी टैंक में गिर गया जिसके बाद तीनों लोगों की पानी में डूब कर मौत हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.