यहां रजाई गद्दे सुधारने का काम करने आए बिहारी व्यक्ति की हत्या कर शव को गड्ढे में दबाया

ख़बर शेयर करें -

भीमताल : यहां ओखलकांडा ब्लॉक के कचलाकोट में चम्पारण (बिहार)निवासी व्यक्ति की हत्या कर शव को गड्ढे में ‌‌‌दबाने‌ का सनसनीखेज मामला सामने आया है। मृतक गद्दे रजाई सुधारने का काम करता था। गत दिवस शनिवार को राजस्व पुलिस ने गड्ढे से‌ शव निकलवा कर अन्त्य परीक्षण‌ के‌ लिए‌ भेजा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार 13 दिसंबर 2022 को पट्टी तल्ला कांडा में राजस्व उपनिरीक्षक को सोयब आलम पुत्र स्व. जहीर मियाँ निवासी चंपारण बिहार द्वारा अपने भाई तबरेज आलम पुत्र जहीर मियाँ के 29 अक्टूबर 2022 से ग्राम कचलाकोट पट्टी तल्ला कांडा धारी से गायब होने की सूचना दी गई। जिस पर राजस्व उपनिरीक्षक द्वारा गुमशुदगी दर्ज कर जाँच की गई। मृतक के परिजनों ने बताया कि उसका भाई तबरेज आलम मूल निवासी- चंपारण बिहार व संतू बैठा निवासी चंपारण बिहार ग्राम कचलाकोट में रूई एवं रजाई गद्दों का कार्य करता था एवं 29 अक्टूबर से उसके भाई का फोन लगातार स्वीच ऑफ मिल रहा था।

यह भी पढ़ें 👉  नेपाली मजदूर की पत्नी के शव का अंतिम संस्कार कर सतीश पांडेय ने पुण्य की पुस्तक में जोड़ा परोपकार का एक और पन्ना

इसके चलते उसने 13 दिसंबर को राजस्व उपनिरीक्षक तल्ला कांडा में गुमशुदगी दर्ज करायी। गुमशुदगी दर्ज होने उपरांत राजस्व उपनिरीक्षक द्वारा जाँच व खोजबीन एवं स्थानीय स्तर पर पूछताछ की गई। शनिवार को राजस्व पुलिस द्वारा ग्राम कचलाकोट के स्थानीय निवासी, देवकी देवी, यशोदा देवी एवं उसके पति महेश सिंह से भी घटना के संबंध में पूछताछ की गई। पूछताछ में पता चला कि गुमशुदा व्यक्ति के साथ रह रहे संतू बैठा निवासी चंपारण बिहार द्वारा अपने साथी तबरेज आलम की हत्या की गई है, जिसे इन दोनों ने देवकी देवी पत्नी माधव सिंह के साथ मिलकर मृतक के साथी संतू बैठा के कहने पर उसे जमीन में गड्ढा खोदकर गाँव के समीप ही गाड़ दिया गया। एसडीएम योगेश महरा ने बताया यशोदा देवी एवं महेश सिंह की निशानदेही पर मृतक के भाई की उपस्थिति में शनिवार को गड्ढे में दबाये शव को खोदकर बरामद कर लिया गया है। मृतक के शव का पंचनामा कर अन्त्य परीक्षण‌ की कार्यवाही के साथ ही वारदात में शामिल उपरोक्त के विरुद्ध हत्या एवं घटना के साक्ष्य छिपाने के संबंध में अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *